Bhai Dooj 2022: आज है भाई दूज का त्योहार, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजन ​विधि - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Thursday, October 27, 2022

Bhai Dooj 2022: आज है भाई दूज का त्योहार, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजन ​विधि



हिंदू धर्म में दिवाली पर्व के दौरान भाई दूज का भी त्योहार आता है और हर बहन इस दिन का बड़ी बेसब्री से इंतजार करती है. यह त्योहार हर साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि के दिन भाई दूज का त्योहार मनाया जाता है. इस साल यह त्योहार आज यानि 27 अक्टूबर को मनाया जा रहा है. इस दिन बहनें अपने भाई को तिलक कर उसकी सभी बलाएं खुद पर ले लेती है और उसकी लंबी उम्र की कामना करती हैं. भाई भी बहन अपनी सामर्थ्य के अनुसार भेंट आदि देकर विदा करते हैं. आइए जानते हैं भाई दूज के दिन किस शुभ मुहूर्त में भाई को तिलक करना करें.
भाई दूज 2022 शुभ मुहूर्त

हिंदू पंचांग के अनुसार इस साल कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि 26 अक्टूबर को दोपहर 2 बजकर 43 मिनट पर शुरू होगी और 27 अक्टूबर को दोपहर 12 बजकर 42 मिनट पर समाप्त होगी. लेकिन उदयातिथि के अनुसार यह त्योहार 27 अक्टूबर को मनाया जाएगा. इस दिन तिलक करने का शुभ मुहूर्त सुबह 11 बजकर 7 मिनट से लेकर दोपहर 12 बजकर 42 मिनट तक ही है.
भाई दूज 2022 पूजन ​विधि

भाई दूज के दिन सुबह स्नान आदि करने के बाद घर के मंदिर की सफाई करें और वहां घी का दीपक जलाएं. इस दिन शादीशुदा बहनें भाई को अपने घर बुलाकर उसका तिलक करती हैं. यदि भाई व्यस्तता के कारण नहीं आ पा रहा तो बहनें भी घर जाकर तिलक कर सकती हैं. भाई के लिए पिसे हुए चावल से चौक बनाएं और फिर भाई दूज की कहानी पढ़ें व सुनाएं.

फिर भाई को तिलक लगाएं और आरती करें. भाई के हाथ में कलावा बांधे और मुंह मीठा करें. इस दिन भाई को सूखा नारियल भी दिया जाता है. तिलक करते हुए मन ही मन भगवान से भाई की लंबी उम्र की कामना करें. फिर भाई को भोजन कराएं और भाई अपनी इच्छानुसार बहन को कुछ उपहार देते हैं.

No comments:

Post a Comment