लोकायुक्त पुलिस ने 50 हजार की रिश्वत लेते पटवरी को पकड़ा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, October 28, 2022

लोकायुक्त पुलिस ने 50 हजार की रिश्वत लेते पटवरी को पकड़ा



ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस ने भिंड में एक पटवारी को 10 हजार रुपये की रिश्वत लेते उसके घर से गिरफ्तार किया है। पटवारी मेवाराम शर्मा ने फरियादी से जमीन का नामांतरण करने के बदले रिश्वत की मांग की थी। रिश्वत नहीं देने पर फरियादी की रजिस्ट्री कैंसिल कराने की लगातार धमकी दे रहा था। परेशान होकर फरियादी ने लिखित आवेदन देकर लोकायुक्त से शिकायत की थी, जिसका सत्यापन कराने के बाद लोकायुक्त ने शुक्रवार सुबह कार्रवाई की।

लोकायुक्त पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार अजय जयंत पुत्र शील कुमार जयंत निवासी चंदनपुरा अटेर रोड भिंड 15 अक्टूबर को ने लोकायुक्त एसपी ग्वालियर कार्यालय में शिकायत की थी कि उसने भुजपुरा में अपने नाना से एक प्लाट ख़रीदा है, जिसका नामांतरण करने के बदले पटवारी मेवाराम शर्मा पुत्र भगवानदास शर्मा दो लाख रुपये की रिश्वत मांग रहा है। फरियादी को लोकायुक्त पुलिस ने एक टेप रिकार्डर देकर रिश्वत मांगे जाने की शिकायत का सत्यापन कराया। पुष्टि होते ही फरियादी की रिश्वत की राशि 50 हजार रुपये लेकर पटवारी मेवाराम शर्मा के पास भेजा।



रिश्वत नहीं देने पर प्लाट को विवादित बता रहा था पटवारी

फरियादी अजय जयंत का कहना है कि उसने अपने नाना से भुजपुरा में एक प्लाट नाना से लिया था। जिसका नामांतरण कराने के लिए पटवारी मेवाराम शर्मा को आवेदन दिया था। पटवारी ने पहले कहा कि इस प्लाट की रजिस्ट्री और किसी के नाम है। फिर बोला कि वह रिस्क लेकर नामांतरण कर देगा, लेकिन दो लाख रुपये खर्च होंगे। फरियादी ने कहा िक दो लाख रुपये अधिक हैं, इस पर पटवारी एक लाख 40 हजार रुपये में मान गया।

No comments:

Post a Comment