खापा बाजार क्षेत्र बना शराब माफियाओं का गढ़ धड़ल्ले से बेच रहे हैं शराब कारोबारि शराब..... जिम्मेदार मोन.....? - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Friday, September 9, 2022

खापा बाजार क्षेत्र बना शराब माफियाओं का गढ़ धड़ल्ले से बेच रहे हैं शराब कारोबारि शराब..... जिम्मेदार मोन.....?



दैनिक रेवांचल टाईम्स -प्रदेश से लेकर जिले तक और जिले से लेकर गांव तक आज ऐसा कोई गांव बाकी नहीं है। जहां आसानी से शराब ना मिलती हो वही प्रदेश के मुखिया भी इस पर निरन्तर शिकंजा कसने का प्रयास कर   रहे हैं। लेकिन निरंतर नाकाम साबित हो रहे हैं ।जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन भी शराब माफियाओं के आगे घुटने टेकते नजर आ है। कार्यवाही के नाम पर की जाती है खानापूर्ति इसी तर्ज में शराब माफियाओं को लेकर सिवनी जिले के अंर्तगत आने वाला ग्राम खापा बाजार क्षेत्र का मामला सामने आया है जो पूर्व से ही जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन एवं अखबारों की सुर्खियों में शराब माफियाओं को लेकर निरंतर सुर्खियों एवं संज्ञान में है। लेकिन आज तक शराब माफियाओं के आगे घुटने टेकते नजर आ रहा है। प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन भी शराब कारोबारीयो द्वारा धड़ल्ले से बेची जा रही है लाखों रुपए के हिसाब से शराब  वही ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत खापा बाजार मैं साप्ताहिक बाजार भी लगती है। वाहनों एवं आवाजाही के साधन भी उपलब्ध हैं। आसपास के 25 से 30 गांव का केंद्र बिंदु माना जाता है। वही आसपास के गांव के बच्चे भी यहां पहली से बारहवीं तक पढ़ने के लिए आते हैं । आज की युवा पीढ़ी पर पड़ रहा है बुरा असर हो रहे हैं नशे के आदि वही एक और ग्रामीणों ने और भी बताया कि हमारे द्वारा पूर्व में भी शिकायतें की गई थी लेकिन आज तक शराब माफियाओं द्वारा शराब बेचना नहीं किया गया बंद शराब कारोबारियों द्वारा रोड में टपरिया लगाकर ठिलिया लगाकर चाय दुकान पान दुकान वाले भी एक का आस्सी बनाने  वाले सटोरियों के भी होसले बुलंद दे रहे हैं अपनी वारदातों को अंजाम है हौसले बुलंद वही गांव के अंदर एवं गांव के बाहर रोडो में धड़ल्ले से बेची जा रही है शराब एवं गांव के अंदर शाम के समय शराब पीकर गांव का माहौल खराब करते हैं ।शराबी गाली गुप्तार करते हुए रोडो में करते हैं दंगा जिसके चलते गांव की माताएं बहने एवं अच्छे लोग भी निरंतर होते रहेते हैं परेशान जिम्मेदारों द्वारा शिकायतों के बाद भी कार्यवाही नहीं ना करना इस बात को दर्शाता है कि मानो संबंधित अधिकारी अमला एवं जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा शराब माफियाओं को बढ़ावा दिया जा रहा है‌। मानो इन्होंने तो धितराष्ट्र की तरह आंखों में पट्टी बांध रखी है। वहीं स्थानीय पुलिस प्रशासन भी निरंतर इनके आगे घुटने टेकते नजर आ रहा है निरंतर नाकामी का परिचय दे रहे हैं स्थानीय प्रशासन के अधिकारी..? 


अखिल बन्देवार के साथ दैनिक रेवांचल टाईम्स की एक रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment