MP News: एक ही सिरिंज से 30 से अधिक बच्चों को टीका लगाने वाला वैक्सीनेटर गिरफ्तार - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, July 29, 2022

MP News: एक ही सिरिंज से 30 से अधिक बच्चों को टीका लगाने वाला वैक्सीनेटर गिरफ्तार

  




मध्य प्रदेश के सागर जिले में एक प्राइवेट स्कूल में 39 बच्चों को एक ही सिरिंज से कोरोना वैक्सीन की खुराक देने वाले एक वैक्सीनेटर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस गंभीर लापरवाही के लिए जिला टीकाकरण अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है. जिले के एक अधिकारी ने बताया कि यह घटना बुधवार को शहर के जैन हायर सेकेंडरी स्कूल में टीकाकरण कार्यक्रम के दौरान हुई. इसके बाद टीका लगाने वाले के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. आरोपी की पहचान जितेंद्र अहिरवार के रूप में हुई है.

आरोपी ने बताया खुद को निर्दोष

सागर जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी (सीएमएचओ) डॉ. डीके गोस्वामी ने बताया कि अहिरवार एक प्राइवेट नर्सिंग कॉलेज का छात्र है. उसे स्वास्थ्य विभाग ने टीकाकरण कार्यक्रम चलाने के लिए ट्रेनिंग दी थी. इस बीच आरोपी अहिरावार की एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें उसने विभाग के प्रमुख (एचओडी) पर आरोप लगाया है कि एचओडी ने उसे केंद्र में मौजूद सभी लोगों का एक ही सिरिंज से टीकाकरण करने को कहा था. वीडियो में उसने दावा किया कि इसमें उसका कोई दोष नहीं है. जब सीएमएचओ से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि यह जांच का विषय है, इस घटना के लिए पहले ही जिला टीकाकरण अधिकारी को निलंबित कर दिया गया है.

ऐसे हुआ मामले का खुलासा

गोपालगंज थाने के प्रभारी कमल सिंह ठाकुर ने बताया कि अहिरावर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उसे जेल भेज दिया गया है. स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि 39 बच्चे जिन्हें एक ही सिरिंज से टीकाकरण किया गया वे सभी कक्षा 9 से 12वीं तक के छात्र हैं. अधिकारी ने बताया बच्चों में से एक के माता-पिता ने देखा कि वैक्सीनेटर, टीकाकरण के लिए एक ही सिरिंज का इस्तेमाल कर रहा है, तब जाकर ये मामला सामने आया. इस लापरवाही के बाद अभिभावकों ने धरना शुरू कर दिया. मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर क्षितिज सिंघल ने सीएमएच को जांच के लिए भेजा. जब सीएमएचओ स्कूल में जांच के लिए पहुंचे तो अहिरावर वहां से फरार हो गया.

जिन 39 बच्चों को एक ही सिरिंज से लगाया टीका, उनका हुआ टेस्ट



इस मामले को गंभीर लापरवाही मानते हुए सागर के संभागीय आयुक्त मुकेश शुक्ला ने गुरुवार को सीएमएचओ की रिपोर्ट के आधार पर जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. शोभाराम रोशन को निलंबित कर दिया. गोस्वामी ने बताया कि डॉक्टरों ने सभी 39 बच्चों के कुछ टेस्ट किए, जिसमें सभी की रिपोर्ट सामान्य आई है. वहीं, जिला कलेक्टर ने संभागीय आयुक्त को विभागीय जांच कर जिला टीकाकरण अधिकारी डॉक्टर रोशन के खिलाफ उचित कार्रवाई की सिफारिश की है.

No comments:

Post a Comment