सावधान! अगर लाल चटनी के साथ खाते हैं मोंमोज तो हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, July 31, 2022

सावधान! अगर लाल चटनी के साथ खाते हैं मोंमोज तो हो सकती हैं ये गंभीर बीमारियां



मोमोज आजकल लोगों का पसंदीदा स्ट्रीट फूड बनता जा रहा है। लोग सड़क किनारे बड़े चाव से मोमाम खाते हैं। अधिकतर लोग मोमोज के ठेले ढूंढते रहते हैं। हालांकि ये स्ट्रीट फूड आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है। एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ है। शोध के अनुसार, मोमोज के साथ मिलने वाली तीखी चटपटी लाल चटनी आपको बीमार कर सकती है।

बीमार कर सकता है मोमोज
इंस्टीट्यूट ऑफ होटल मैनेजमेंट कैटरिंग एंड न्यूट्रिशन पूसा ने स्ट्रीट में मिलने वाले मोमोज के बारे में एक शोध किया। इस शोध में बताया गया है कि मोमोज नुकसानदायक तो है ही, लेकिन इसके साथ मिलने वाली लाल रंग की तीखी और चटपटी सी चटनी बेहद खतरनाक है। इस चटनी को खाने से कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं।

फीकल मैटर केमिकल
शोध के अनुसार, इस चटनी में जरूरत से ज्यादा फीकल मैटर नामक केमिकल पाया जाता है। रिसर्च में सामने आया है कि मोमोज बनाने के लिए ब्लीचिंग मैदा का उपयोग होता है। इसमें कई तरह के केमिकल का भी प्रयोग किया जाता है। मोनोसोडियम ग्लूटामेट इसमें मिला होता है, यह हमारे शरीर की हड्डियों को कमजोर करता है।

नर्वस डिसऑर्डर

साथ ही रिसर्च में बताया गया है कि इस चटनी से नर्वस डिसऑर्डर की समस्या हो सकती है। मोमोज में पत्तागोभी की स्टफिंग बिना पकाए ही की जाती है। जो लाल चटनी हम इसके साथ खाते है वो हमारे शरीर में पाइल्स की समस्या को न्यौता देती है। जो लोग नॉनवेज मोमोज खाते है उनके लिए ये चटनी ज्यादा खतरनाक होती है क्योंकि इसमें चिकन की स्टफिंग की जाती है।

No comments:

Post a Comment