अंजनिया राजस्व विभाग कर रहा एकपक्षीय कार्यवाही, मुंह देखा व्यवहार कर रहा राजस्व विभाग..मोहगांव प्रोजेक्ट की भूमि पर हो रहा अवैध निर्माण.. अन्य अतिक्रमण पर कार्यवाही कब अंजनिया की जनता में है रोष - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, July 31, 2022

अंजनिया राजस्व विभाग कर रहा एकपक्षीय कार्यवाही, मुंह देखा व्यवहार कर रहा राजस्व विभाग..मोहगांव प्रोजेक्ट की भूमि पर हो रहा अवैध निर्माण.. अन्य अतिक्रमण पर कार्यवाही कब अंजनिया की जनता में है रोष


रेवांचल टाइम्स - अंजनिया शुक्रवार को बिछिया तहसील के अंतर्गत उप तहसील अंजनिया के नायब तहसीलदार पुष्पेंद्र पंद्रे तथा राजस्व निरीक्षक तेज लाल धुर्वे ने अतिक्रमण एवं अवैध निर्माण के संबंध में मध्यप्रदेश शासन के अभियान के तहत सूर्यांश ठाकुर के अवैध निर्माण पर जेसीबी मशीन चला कर बहुत बड़ी वाहवाही लूट ली हो परंतु अंजनिया ग्राम की आम जनता के गुस्से को झेलना उनके लिए कठिन हो गया है। 

         अंजनिया की आम जनता ने आरोप लगाया है कि ग्राम  में केवल सूर्यांश ठाकुर ने ही अवैध निर्माण नहीं किया था बल्कि ठीक बाजू में रज्जाक उर्फ कल्लू भाईजान की निर्माणाधीन पक्की दुकान भी सूर्यांश ठाकुर के मकान निर्माण से लगी भूमि पर हो रहा है जिस पर रविवार की सुबह स्लैप ( लेंटर ) किया जा रहा है।

          कुछ समय पूर्व इसी स्थान पर सड़क के दूसरी तरफ जमील खान के द्वारा अतिक्रमण करने का प्रयास किया जा रहा था तब तत्कालीन राजस्व अमले ने बेदखली की कार्यवाही भी की थी परंतु बेदखली कार्यवाही के कुछ समय बाद बेदखल करने वाले अधिकारियों के स्थानांतरण होते ही संबंधित व्यक्ति ने ने राजस्व प्रशासन को ठेंगा दिखाते हुए तहसील कार्यालय के सामने बेशकीमती जमीन पर कब्जा कर दो मंजिला मकान तैयार कर लिया विभाग ने किसी भी प्रकार की रोक नहीं लगाई बल्कि चर्चा में तो यह भी आया था कि संबंधितों ने अतिक्रामक को मौन स्वीकृति दे दी थी और आंख में पट्टी बांध कर अवैध कब्जा होने दिया।

         इतना ही नहीं यह विवाद तो तब सामने आया जब रज्जाक उर्फ कल्लू भाईजान द्वारा किए जा रहे अवैध पक्की दुकान के निर्माण कार्य को रुकवाने मोहगांव प्रोजेक्ट की वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। तब जाकर बात सामने आई कि उक्त भूमि राजस्व कि नहीं अपितु वन विभाग के मोहगांव प्रोजेक्ट की है। 

          आनन-फानन में मोहगांव प्रोजेक्ट के कर्मचारियों और गांव के नागरिकों ने स्थानीय पत्रकारों को बुलवाया और उक्त घटना की जानकारी दी। अंजनिया राजस्व और मोहगांव प्रोजेक्ट की जमीनों में बहुत ही विवाद बनते जा रहे हैं जो अनसुलझे से लगते हैं।

अंजनिया के लोगों ने आरोप लगाया है कि किसी एक व्यक्ति की सांठगांठ से सूर्यांश ठाकुर के अवैध निर्माण को तोड़वाने में राजस्व अमले ने विशेष रूचि ली है। राजस्व विभाग की केवल एक पक्षीय कार्यवाही को लेकर प्रश्नचिन्ह खड़ा हो गया है। ग्रामीणों ने यह आरोप भी लगाया है कि उप तहसील कार्यालय के  सामने एवं ठीक बाजू में अन्य दो शासकीय कर्मचारियों ने विगत 2 वर्ष पूर्व शासन के विरुद्ध पक्के नव निर्माण किए हैं, जिसकी शिकायत पहले भी हुई हैं और निर्माण कार्य रुकवाया भी गया था । तत्कालीन चौकी प्रभारी द्वारा निर्माण सामग्री जप्त भी की गई थी परंतु  राजस्व विभाग की सांठगांठ के चलते दो मंजिला पक्के भवन बन चुके हैं, जिन पर दुकानें चलाई जा रही हैं। फिर भी राजस्व अमला इतना शांत क्यों बैठा है? और आरोप तो यह भी लगाया गया है कि राजस्व अमले के लेन-देन के चलते कुछ व्यक्ति विशेष को विशेष छूट दी गई है जिससे लाखों रुपए की शासन की भूमि पर कब्जा कर पक्का निर्माण किया जा चुका है।

          ग्रामीणों ने मांग की है कि राजस्व विभाग केवल एक व्यक्ति विशेष पर कार्यवाही ना करें बल्कि सभी पर बराबर कार्यवाही करे।

          मोहगांव प्रोजेक्ट की भूमि पर रज्जाक उर्फ कल्लू भाईजान के द्वारा अवैध पक्के निर्माण को मोहगांव प्रोजेक्ट की टीम द्वारा रुकवाया गया था, उस पर पुलिस दल प्रदान करने और विवाद को शांत करने के लिए अंजनिया के पत्रकार साथियों द्वारा अंजनिया उपथाना प्रभारी जसवंत सिंह राजपूत को आवेदन दिया गया। और यह भी कहा गया कि जब तक राजस्व विभाग और  मोहगांव प्रोजेक्ट की जमीनों की उचित जानकारी प्राप्त नहीं हो जाती तब तक नव निर्माण कार्य ना किए जाएं।






No comments:

Post a Comment