युवक ने की करोड़ों की ठगी, पुलिस को ऐसे दिया चकमा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, June 15, 2022

युवक ने की करोड़ों की ठगी, पुलिस को ऐसे दिया चकमा


रेवांचल टाईम्स :शेयर बाजार में निवेश और 20 फीसद मुनाफे का प्रलोभन देकर करोड़ों रुपये ठगने वाला मोहित श्रीवास्तव पत्नी और प्रेमिकाओं पर लाखों रुपये हर महीने खर्च करता था। उसे बड़ी होटलों और पबों में पार्टी का शौक है। स्पा सेंटर में काम करने वाली एक युवती हनी ट्रैप में फंसा कर उससे लाखों रुपये वसूल चुकी है। यह बातें मोहित ने रिमांड के दौरान पूछताछ में बताई हैं। मामले में मोहित श्रीवास्तव की पत्नी अलका श्रीवास्तव को भी आरोपी बनाया गया है।

डीसीपी जोन-2 संपत उपाध्याय के मुताबिक आरोपित मोहित श्रीवास्तव को रांची से गिरफ्तार किया था। प्लाजो रेसिडेंसी निवासी अमित चौकसे से दो करोड़ की धोखाधड़ी कर भागा मोहित रांची केएक निजी बैंक में नौकरी कर रहा था। उस पर लखनऊ के विभूतिखंड थाना में भी पांच करोड़ की धोखाधड़ी के दो मामले दर्ज हैं। पूछताछ में मोहित ने बताया कि दिल्ली से एमबीए करने के बाद उसने लखनऊ के ठिकाना बनाया और लोगों को व्यापार व शेयर बाजार में निवेश का झांसा देकर पांच करोड़ रुपये ले लिए। केस दर्ज होते ही इंदौर आया और एयू स्माल फायनेंस बैंक में नौकरी कर ली।

खाता खुलवाने वाले ग्राहकों का डेटा निकाला और शेयर बाजार में ज्यादा मुनाफा व हर महीने 20 फीसद लाभ का झांसा देकर दो करोड़ रुपये ले लिए। रुपये जमा करवाने के लिए बैंककर्मी सिक्की और दीपक के खातों का उपयोग किया। कुछ महीनों तक तो मुनाफा लौटाया, लेकिन अचानक सामान समेट कर फरार हो गया। रांची में निजी बैंक में नौकरी कर ली। मोहित की लाइफ स्टाइल हैरान करने वाली थी। पहली पत्नी से तलाक होने के बाद दूसरी शादी कर ली। दो युवतियों से उसकी दोस्ती है जिन पर चार लाख रुपये महीने खर्च करता था। गोवा-मुंबई जैसे शहरों में युवतियों के साथ पार्टियां करने जाता था। एक बार स्पा सेंटर की युवती ने उसका आपत्तिजनक अवस्था में वीडियो बना लिया।

बदनामी के डर से मोहित ने लाखों रुपये दिए और रिपोर्ट भी नहीं की। डीसीपी के मुताबिक मोहित ने रांची के कुछ लोगों को झांसे में ले लिया था। दो करोड़ रुपये ठगता इसके पहले पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मोहित से 29 एटीएम व डेबिट कार्ड, बैंक की पासबुक मिली हैं। गिरफ्तारी के बाद तीन फरियादी थाने पहुंच गए जिनके साथ ठगी हुई है। दीपक और सिक्की को भी आरोपित बनाया जाएगा। दोनों ने कमीशन लेकर ठगी की राशि जमा करवाई थी। दीपक का भाई एयर ट्रैफिक कंट्रोल(एटीसी) में नौकरी करता है।


No comments:

Post a Comment