मंडला जिले के बिछिया विकासखंड का अजीबोगरीब मामला सरपंच पद के उम्मीदवार के ससुराल मे शौचालय ना होने के कारण हुआ फार्म रिजेक्ट... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, June 9, 2022

मंडला जिले के बिछिया विकासखंड का अजीबोगरीब मामला सरपंच पद के उम्मीदवार के ससुराल मे शौचालय ना होने के कारण हुआ फार्म रिजेक्ट...


रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला के विकास बिछिया के ग्राम पंचायत आमा डोंगरी का मामला सामने आया जहां सरपंच पद के प्रत्याशी राजेंद्र उइके ने बताया कि मैंने सरपंच पद हेतु फॉर्म दाखिल किया था पर मेरा फॉर्म है इसलिए मैडम के द्वारा निरस्त कर दिया गया कारण पूछने पर मुझे बताया गया कि तुम्हारे यहां शौचालय नहीं जबकि मेरे घर में शौचालय बना हुआ है कुछ आपत्ती कर्ताओं के द्वारा आपत्ति लगाकर मेरा फार्म रिजेक्ट करा दिया गया जबकि मेरे ससुराल में शौचालय का काम चल रहा है, मेरे ससुराल में शौचालय ना होने के कारण मेरा फार्म रिजेक्ट कर दिया गया है इस मामले को लेकर मंडला कलेक्टर मैडम को भी अवगत कराया गया तो उन्होंने इस विषय को लेकर एस.डी.एम मैडम के पास भेज दिया पर एस.डी.एम मैडम के द्वारा बोला गया कि रिजेक्ट हो गया तो हो गया उस पर कोई सुधार नहीं होगा जबकि हमारे पास शौचालय होने का प्रमाण पत्र पंचायत के द्वारा दिया गया था उसको भी एस.डी.एम. मैडम ने देखने से इंकार कर दिया, ग्रामीणों के साथ प्रत्याशी दिन भर यहाँ से बहाँ भटकते रहे पर इनकी सुनने वाला कोई नहीं है,जब के मंडला आदिवासी बहुल जिला होने के कारण यहां पर आदिवासियों के शोषण के मामले आए दिन आते रहते हैं, इसी जिले से दो-दो सांसद आदिवासी समाज से ही आते हैं फिर भी इनकी सुध लेने वाला यहाँ कोई नहीं है!



No comments:

Post a Comment