बर्दाश्त नहीं हुए पत्नी के चरित्र को लेकर गंदे अपशब्द...जीजा ने नाबालिग साले को उतारा मौत के घाट - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, June 23, 2022

बर्दाश्त नहीं हुए पत्नी के चरित्र को लेकर गंदे अपशब्द...जीजा ने नाबालिग साले को उतारा मौत के घाट



जबलपुर। जबलपुर के नाबालिग की मांडू से मिली लाश के बाद गढ़ा पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए मृतक के जीजा और उसके साथी को दबोच लिया है। पकड़े गए जीजा ने बताया कि उसका साला, अपनी बहन के प्रेम विवाह करने की बात पर, चरित्र को लेकर तंज कसता था। जो उसे बर्दाश्त नहीं हुआ। जिसके बाद उसने पूरी योजना बनाकर साले को खाई से नीचे फेंक दिया था। लेकिन सास की रिपोर्ट के बाद गढ़ा पुलिस ने सुराग लगाकर मामले का खुलासा कर दिया।

जानकारी अनुसार 14 जून 22 को निर्मला मिश्रा पति संपत कुमार मिश्रा 43 वर्ष निवासी गढ़ा ने बताया था कि उनका 16 वर्षीय बेटा दुकान जाने को कहकर घर से 11 जून 22 को निकला था । बाद में इसे पता चला की इसका दमाद अभिषेक मिश्रा जबलपुर आया हुआ था और बेटे अतुल मिश्रा को बुलाकर बहला फुसला कर अपने साथ ले गया । दमाद अभिषेक मिश्रा पर संदेह जाहिर करने पर मामला पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।
दामाद को हिरासत में लिया

मामले की बारीकी से पड़ताल करने एक टीम गठित की गई।जो लगातार मामले में सबूत जुटा रही थी। विवेचना में स्टेशन के आस पास के सीसीटीवी फूटेज खंगाले गये, संदेहियों से पूछताछ की गयी। साथ ही सायबर सेल जबलपुर द्वारा अभिषेक मिश्रा की लोकेशन ली गई तो पता चला कि अभिषेक मिश्रा भोपाल में है जिसकी पता साजी हेतु टीम गठित कर भोपाल रवाना की गई एवं अभिषेक मिश्रा के मिलने पर हिरासत में लेकर थाना गढा लाया गया ।
बर्दाश्त नहीं हुए अपशब्द

बाद में सघन पूछताछ में अभिषेक मिश्रा ने बताया कि नाबालिग साला उसकी पत्नी खुशबू को उसके चरित्र को लेकर अपशब्द गंदे कमेंट करता था । जिसकी जानकारी खुशबू द्वारा देने पर उसने साले की हत्या करने का प्लान बनाया। जिसके बाद आरोपी जीजा ने सोची समझी योजना के तहत अपने साथी मयंक द्विवेदी के साथ मिलकर धार के काकडख़ेड़ा खाई में अपने साले को मार पीट कर 1000 फिट की ऊंचाई की खांई से फेंक दिया।
नाबालिग को कर दिया था दफन

जानकारी अनुसार नाबालिग का शव धार के मांडव थाना में मिला एवं अज्ञात मर्ग होने के कारण धार पुलिस द्वारा वहीं मर्ग कायम कर विधि पूर्वक दफन की कार्यवाही की गयी। पता साजी की गई जो पता चला की थाना मांडव जिला धार में मिलते जुलते हुलिये का अज्ञात मर्ग कायम कर जाँच में लिया गया है जिस पर संदेही के कथनों की तस्दीकी एवं थाना मांडव में मिले शव की शिनाख्तगी हेतु टीम गठित की गई।
मयंक के कमरे से मिला मृतक का सामान

परिजनों के साथ टीम थाना मांडव जिला धार रवाना की गई । जिसके बाद परिजनों ने शव के कपड़े और फोटो देखकर बालक को पहचान लिया। जिसके बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए प्रकरणा के आरोपी मयंक द्विवेदी ग्राम रेवड, थाना पृथ्वीपुर से आरोपी को हिरासत में ले लिया। आरोपी ने अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि अभिषेक मिश्रा से उसके किराये के कमरे से मृतक अतुल मिश्रा का बैग जिसमें मृतक का इलेक्ट्रिक सामान तथा मार्कशीट थे एवं आरोपी मयंक द्विवेदी ने मृतक अतुल मिश्रा का स्टील का टिफिन और पर्स जिसमें मृतक का आधार कार्ड है, उनके किराये के कमरेबरादम किया गया। दोनों आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया।

No comments:

Post a Comment