गंगा सप्तमी के साथ दुर्लभ रविपुष्य अमृत योग गंगा सप्तमी के दिन स्नान जरूर करें रविवार को - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Saturday, May 7, 2022

गंगा सप्तमी के साथ दुर्लभ रविपुष्य अमृत योग गंगा सप्तमी के दिन स्नान जरूर करें रविवार को




रेवांचल टाइम्स  - अंजनियां सप्तमी शनिवार को 11 बजकर 20 मिनट दिन से रविवार को 12 बजकर 49 मिनट दिन तक है । वैष्णव लोग सूर्योदय व्यापनी अर्थात उदिया तिथि को मानते है , जिस तिथि में सूर्य उदय होता है वही तिथि दिन रात में मानी जाती है चूंकि गंगा सप्तमी रविवार को 12बजकर 49मिनट तक है । इसलिए गंगा सप्तमी का स्नान रविवार के दिन ही सर्वश्रेष्ठ है इस दिन रविपुष्य अमृत एवं आनंद योग है इस योग में विवाह आदि को छोड़ कर कोई भी असंभव से असंभव कार्य का श्री गणेश किया जाय तो कार्य अवश्य ही पूर्ण होते है इसमें नई वस्तु , वाहन ,आभूषण का खरीदना ,नए उद्योग व्यापार प्रारंभ करना, सर्वश्रेयस्कर होता है । वरदान आश्रम के सचालक कथावाचक यज्ञाचार्य नीलू महाराज जी ने बताया की  आपने कार्य की सिद्धि के लिए इस दिन जप आदि का संकल्प लेना बहुत ही लाभ दायक होता है इस दिन नर्मदा स्नान करने से सभी 52गंगाओ के स्नान का फल मिलता है

No comments:

Post a Comment