हल्दी के जरिए आसानी से करें अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल, जानिए ये कारगर उपाय - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Saturday, May 28, 2022

हल्दी के जरिए आसानी से करें अपने ब्लड शुगर को कंट्रोल, जानिए ये कारगर उपाय

  


रेवांचल टाईम्स:इन दिनों लगातार डायबिटीज की समस्या लोगों में देखी गई है। डायबिटीज की परेशानी बहुत हद तक लाइफस्टाइल से जुड़ी बातों पर निर्भर करता है। डायबिटीज के मरीजों को कौन सी चीजें खानी चाहिए इसका उन्हें खास ध्यान रखना चाहिए। साथ ही उन्हें उस चीजों को अपनी डाइट में लेना चाहिए जिसके चलते उनका ब्लड शुगर लेवल बैलेंस रहे। आइए जानते हैं घर में मौजूद हल्दी किस तरह से हमें डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे मरीजों के लिए काफी कारगार साबित होती है।

हल्दी में फाइबर, आयरन, विटामिन सी और एंटी ऑक्सीडेंट्स गुण प्रचुर मात्रा में होते हैं। इसके साथ ही ये रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के अलावा मेटाबॉलिज्म को बूस्ट करने का काम करती है। हल्दी आपके ब्लड शुगर लेवल को भी नियंत्रित करने में सहायता कर सकती है।

हल्दी और आंवला है फायदेमंद




हल्दी के औषधीय गुण की वजह से यह कई रोगों से मुक्ति दिलाने में सहायक है। साथ ही यदि हम हल्दी को आंवले के साथ सेवन करें तो इससे काफी फायदा पहुंचता है। आंवला भी पोषक तत्वों के भंडार से कम नहीं होता। आंवले में विटामिन सी अधिक मात्रा में होता है। ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है। अगर इसे हल्दी के साथ मिलाकर खाया जाए तो ये डायबिटीज पेशेंट के ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में कारगर है।

अदरक और हल्दी

डायबिटीज के मरीजों को हल्दी के साथ अदरक का सेवन करना भी काफी लाभ पहुंचाता है। अदरक कई गुणों से युक्त होता है। रिपोर्ट्स की मानें तो अदरक डायबिटीज के पेशेंट में ब्लड शुगर का लेवल में लाने में सहायक है। हल्दी और अदरक का सेवन करने के लिए एक गिलास हल्दी वाले दूध में अदरक मिलाकर इसका सेवन करने से ब्लड शुगर लेवल में आ जाता है।

Disclaimer: यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है।रेवांचल टाईम्स  इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें।

No comments:

Post a Comment