संयुक्त रूप से अनेक संगठन मिलकर मनाएंगे बाबा साहब की जयंती... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, April 5, 2022

संयुक्त रूप से अनेक संगठन मिलकर मनाएंगे बाबा साहब की जयंती...



रेवांचल टाइम्स - मंडला ज़िले में 14 अप्रैल को बाबा साहेब डॉ. बी.आर. अंबेडकर जी की 131 वीं जन्म जयंती को लेकर बैठक हुई सम्पन्न*


मंडला। संविधान निर्माता भारत रत्न बोधिसत्व बाबा साहेब डॉ. बी.आर. अम्बेडकर जी की जन्म जयंती समारोह मनाने के लिए 2 अप्रैल को दोपहर 12:00 बजे आदिवासी रैन बसेरा आदिवासी विकास परिषद मंडला में बैठक आहूत की गई। उक्त बैठक में मुख्य रूप  में अजाक्स संगठन जिला शाखा मण्डला के तत्वावधान में आयोजित की गई। जिसमें प्रमुख रूप से  अजाक्स, आदिवासी विकास परिषद मण्डला, ओबीसी महासभा मण्डला, ओएसएस मण्डला, रामनगर चौगान सेवा समिति, कोयतोड़ महासभा, अनुसूचित जनजाति महासभा मध्यप्रदेश, आदिवासी सामाजिक न्याय संगठन, डॉ. अम्बेडकर संघ, बुद्धिस्ट सोसाइटी आफ इंडिया, राष्ट्रीय विकास परिषद , बाल्मीकि समाज, आदिवासी प्रधान समाज संगठन, आदिवासी महापंचायत, आजाद संघ आदि अन्य संगठनों के प्रमुख पदाधिकारियों ‌की उपस्थिति में संयुक्त रूप से अधिक संख्या में डॉ. बाबा साहेब बी.आर. अम्बेडकर जी की जन्म जयंती बड़े धूमधाम से मनाऐ जाने का निर्णय लिया गया है। बैठक की अध्यक्षता निवास  नगर पालिका अध्यक्ष चैन सिंह वरकड़े ने की। उक्त बैठक में समिति का गठन भी हुआ।अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी (अज्जाक्स) संरक्षक एवं परिषद अध्यक्ष अमर सिंह झारिया एवं अज्जाक्स कार्यवाहक अध्यक्ष आर.के. चौधरी, दी बुद्धिस्ट सोसायटी और इंडिया के अध्यक्ष आर.के. मण्डाले ने बताया की 14 अप्रैल 2022 को भारतीय संविधान के शिल्पकार भारत रत्न बोधिसत्व डॉ. बी.आर. अम्बेडकर जी की 131 वीं जयंती मनाने मूलनिवासियों ने भव्य रूप से मनाने एकमतेन निर्णय लिया गया। बैठक में अनेक वक्ताओं ने कहा गया कि बाबा साहेब डॉ.अम्बेडकर जी ने संविधान में देश के सभी वर्गों का ध्यान रखकर  आजीवन संघर्ष कर अधिकारों से वंचित करोड़ों लोगों को अधिकार सम्पन्न बनाया है। हमारा दायित्व है कि हम मूलनिवासी हैं सभी एकजुट होकर जयंती को भव्य रूप देंगे।


कार्यक्रम की रूपरेखा


सर्वप्रथम 14 अप्रैल 2022 को सुबह 8 बजे बाबा साहेब डॉ. अम्बेडकर चौक में बाबा साहेब की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्जवित करेंगे साथ ही बुद्ध वंदना, धम्म वंदना, संघ वंदना, त्रिशरण, पंचशील पाठ करेंगें। बाबा साहेब की जीवनी एवं कार्य उपलब्धि पर प्रकाश डाला जायेगा। तत्पश्चात वाहन रैली डॉ. अम्बेडकर चौक से शहर के मुख्य चौराहे जिसमें उदय चौक, बुधवारी, महात्मा गांधी मैदान, इलाही चौक, डॉ. अम्बेडकर वार्ड, पड़ाव लाल बहादुर शास्त्री वार्ड, चिलमन चौक, बस स्टेण्ड, लालीपुर, बिंझिया, से पॉलीटेक्निक, राजीव कालोनी झंडा चौक स्थित बुद्ध विहार, नेहरू स्मारक, बैगा-बैगी चौक होते हुए निषाद राज भवन में रैली का समापन पश्चात भोजन ग्रहण होगा।


बैठक में ऐ रहें उपस्थिति


चैन सिंह वरकड़े, अध्यक्ष नपा निवास, एवं अध्यक्ष आदिवासी विकास परिषद, अज्जाक्स संरक्षक अमर सिंह झारिया, अध्यक्ष तेज लाल धुर्वे, कार्यवाहक अध्यक्ष आर.के. चौधरी, महासचिव आर.के. भाण्डे, सुरेश कुमार चौधरी, मेहरचंद बघेल, दी बुद्धिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया के अध्यक्ष आर.के. मण्डाले, महासचिव शरद मेश्राम, डॉ. अम्बेडकर संघ के अध्यक्ष एड. राकेश चौधरी, उपाध्यक्ष दीपक प्रकाश बौद्ध, नारायणगंज जनपद पंचायत के उपाध्यक्ष इंजी. भूपेन्द्र वरकड़े, ओएसएस के अध्यक्ष एड.सीबी पटैल, वाल्मिकी समाज के अध्यक्ष राकेश धौलपुरिया, जय सिंह धुर्वे सेवा निवृत्त प्राचार्य, भारतीय जीवन बीमा निगम के संतू मरावी, बाल सिंह ठाकुर, सुरेन्द्र चौधरी, सीनियर व.से.पा. कार्यकर्ता गजराज मरावी, भारतीय पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष शिव कुमार दोहरे, एमपी बर्मे, कालूराम रौतिया, परमानंद टांडिया, योगेन्द्र कुम्हरे सहित सैकड़ों की तादाद में उपस्थिति देकर जयंती समरोह को सफल बनाने एकजुट हुए। 


शहीदों को दी गई श्रद्धांजलि


बैठक के अंत में 02 अप्रैल 2018 को माननीय सुप्रीम कोर्ट के द्वारा एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में लिए निर्णय के विरोध में हुए आंदोलन में शहीद हुए वीर सपूतों को श्रद्धांजलि दी गई।

No comments:

Post a Comment