10 मई तक शतप्रतिशत विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र जारी करें - हर्षिका सिंह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, April 7, 2022

10 मई तक शतप्रतिशत विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र जारी करें - हर्षिका सिंह

 



 मंडला 7 अप्रैल 2022

विद्यार्थियों के जाति प्रमाण पत्र जारी करने के संबंध में आयोजित बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि विशेष अभियान चलाकर स्कूल जाने वाले प्रत्येक छात्र-छात्राओं का 10 मई तक पात्रतानुसार जाति प्रमाण पत्र बनवाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि संबंधित विभाग आपस में समन्वय करते हुए इस कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान करें। वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से संपन्न हुई इस बैठक में सहायक आयुक्त जनजाति कार्यविभाग विजय तेकाम, जिला शिक्षाधिकारी, डीपीसी, लोक सेवा प्रबंधक, समस्त एसडीएम, तहसीलदार, खण्ड शिक्षा अधिकारी, बीआरसी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि जाति प्रमाण पत्र जारी करने के अभियान में सभी एसडीएम लीड रोल अदा करें। अगले 2 दिवस में विकासखंड स्तर तक फार्म की उपलब्धता सुनिश्चित करें। सभी फार्म शाला शिक्षकों को समुचित मार्गदर्शन प्रदान करते हुए जल्द से जल्द उपलब्ध कराएं। इस संबंध में विकासखंड स्तर पर रिकार्ड भी संधारित करें। खंड शिक्षा अधिकारी सुनिश्चित करें कि कोई भी अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति तथा पिछड़े वर्ग का कोई भी बच्चा जाति प्रमाण पत्र से वंचित नहीं रहना चाहिए। उन्हांेने इस कार्य में जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों का भी सहयोग प्राप्त करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि दस्तावेजीकरण के संबंध में भी शिक्षकों को स्पष्ट दिशा-निर्देश प्रदान करें। सभी पटवारी समय पर आवश्यक दस्तावेज उपलब्ध कराएं। दस्तावेजों के कारण कार्य में विलंब नहीं होना चाहिए। उन्होंने कहा कि 11 अप्रैल से 23 अप्रैल के मध्य दस्तावेजीकरण की कार्यवाही पूर्ण करते हुए फार्म जमा कराएं। जैसे-जैसे फार्म भरते जाएं लोकसेवा संचालकों को उपलब्ध कराएं। लोकसेवा केन्द्रों से फार्म तत्काल एसडीएम कार्यालय भेजे जाएं। एसडीएम इस कार्य की दैनिक समीक्षा करते हुए कार्य को समय-सीमा में पूर्ण कराएं। उन्होंने एसडीएम को प्रत्येक टीएल बैठक में साप्ताहिक प्रगति प्रतिवेदन प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए।

No comments:

Post a Comment