जिले के गरीब कामगारों की जमा पूंजी को चुटकी में ले उड़े डिजिटल इंडिया के शातिर ठग... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

🙏जय माता दी🙏 शुभारंभ शुभारंभ माँ नर्मदा की कृपा और बुजुर्गों के आशीर्वाद से माँ रेवा पब्लिकेशन एन्ड प्रिंटर्स का हुआ शुभारंभ समाचार पत्रों की प्रिंटिग हेतु संपर्क करें मोबाईल न- 0761- 4112552/07415685293, 09340553112,/ 9425852299/08770497044 पता:- 68/1 लक्ष्मीपुर विवेकानंद वार्ड मुस्कान प्लाजा के पीछे एम आर 4 रोड़ उखरी जबलपुर (म.प्र.)

Sunday, March 13, 2022

जिले के गरीब कामगारों की जमा पूंजी को चुटकी में ले उड़े डिजिटल इंडिया के शातिर ठग...

रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला में आये दिन जिले में निवासरत भोलेभाले आदिवासियों लोगो पढ़े लिखे लोग नए नए तरीके से ठग रहै है और जिम्मेदार कार्यवाही करने की बात कह कर अपनी कागजी कार्यवाही कर अपना पलड़ा झड़ते नजर आते है।

        शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओँ का फायदा मिलने के नाम पर जिले में लगातार हो रही है ठगी आज शासन की हर प्रकार की योजना और उसके फायदे लेने के पहले आपको खुद के समस्त दस्तावेजो का डिजिटली करण करवाना होगा और फिर सावधानी के साथ इनका उपयोग भी करना होगा, अगर आपने थोड़ी सी भी भूल की तो ये भूल आप पर भारी पड़ सकती है।

इसका जीता जागता उदाहरण निवास थानान्तर्गत चकदही कापा ग्राम का है जहाँ दो दिन पूर्व अज्ञात शातिरों के द्वारा गाँव के भोलेभाले लोगों से ई श्रम कार्ड बनाने के नाम पर ठगी की गई, पीड़ितों द्वारा की गई एफ आई आर में दी गई जानकारी अनुसार उक्त ठागबाजों ने शासन की विभिन्न योजनाओं से मिलने वाली राशि और फायदा का झाँसा देकर कई दर्जन लोगो से बैंक डीटेल पूंछकर और अंगूठा लगवाकर इनके खाते में जमा राशि अपने खातों में ट्रांसफर कर फरार हो गये। ठगी की राशि लगभग पचास हजार से ऊपर की बताई जा रही है।

ज्ञात हो


कि इस तरह का ये मामला नया नहीं है? इसके पूर्व में भी अनेकों ठगों द्वारा पी एम आवास बनाने के नाम पर हितग्राहियों से नगद राशि लेकर फरार चल रहे है, इस मामले की भी निवास थाना में रिपोर्ट दर्ज है। और अभी हाल ही में मकानों के नंबर लगाने वालों के द्वारा भी फर्जी तरीके से और अपनी ही सर्तो के विपरीत जाकर टीन की पट्टी पर मार्कर पेन से नंबर लिखकर चालीस 2 रूपये बसूला जा रहा था। इस मामले को संज्ञान में लेकर बसपा के जिलाध्यक्ष और अन्य समाज सेवियों के द्वारा अधिकारियों से इनकी शिकायत कर अवैध बसूली पर रोक लगाई जा सकी।


No comments:

Post a Comment