CBI का दिलीप बिल्डकॉन पर छापा, NHAI अफसर को रिश्वत देने का मामला, भोपाल सहित देशभर में छापे, छह गिरफ्तार... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, December 31, 2021

CBI का दिलीप बिल्डकॉन पर छापा, NHAI अफसर को रिश्वत देने का मामला, भोपाल सहित देशभर में छापे, छह गिरफ्तार...




रेवांचल टाईम्स - भोपाल, केंद्रीय जांच ब्यूरो ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के एक अधिकारी को 20 लाख की रिश्वत दिए जाने के मामले में दिलीप बिल्डकॉन पर बड़ी कार्रवाई की है।


 भोपाल सहित देशभर में नईदिल्ली, बंगलौर, कोचीन, गुडगांव आदि स्थानों पर छापे मारे गए। एनएचएआई के अधिकारी सहित निजी कंपनी के जीएम, ईडी और चार अन्य लोग गिरफ्तार किए गए हैं। इसमें एक सीनियर आईपीएस अधिकारी के भाई भी शामिल हैं। सभी ठिकानों पर छापे में करीब चार करोड़ रुपए की वसूली हुई है।


बताया जाता है कि एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी बंगलौर को 20 लाख रुपए की रिश्वत दिए जाने के मामले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है। इसमें मध्य प्रदेश के बड़े औद्योगिक घराने दिलीप बिल्डकॉन पर भी कार्रवाई की गई है। सीबीआई ने भोपाल सहित बंगलौर, नईदिल्ली, कोचीन, गुडगांव में एकसाथ छापे मारे हैं। कंपनी के ईडी, जीएम सहित चार अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों की गिरफ्तारी हुई है। अब गिरफ्तार लोगों को अदालत में पेश कर कानुूनी कार्रवाई की जाएगी। सीबीआई ने नई दिल्ली, बैंगलोर, कोचीन, गुड़गांव, भोपाल आदि स्थानों सहित आरोपियों के परिसरों में तलाशी की है जिसमें लगभग 4 करोड़ रुपये की वसूली हुई।

इनकी गिरफ्तारी हुई


जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने जिन छह लोगों की गिरफ्तारी की है, उनमेें एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी अकील अहमद, कंपनी के महाप्रबंधक रत्नाकरण साजीलाल, कार्यकारी निदेशक देवेंद्र जैन, सुनील कुमार वर्मा सहित एक निजी व्यक्ति अनुज गुप्ता शामिल हैं। महाप्रबंधक साजीलाल, कार्यकारी निदेशक जैन व वर्मा दिलीप बिल्डकॉन के अधिकारी-कर्मचारी हैं। जैन एक आईपीएस अधिकारी के भाई हैं।


रिश्वत के लेनदेन पर थी नजर

बताया जाता है कि निर्माण कार्यों से जुड़े मध्य प्रदेश के औद्योगिक घराने दिलीप बिल्डकॉन पर केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कार्रवाई की है। राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़े एक अधिकारी से लेन-देन से जुड़ा था यह मामला इसलिए सीबीआई ने योजनाबद्ध ढंग से कार्रवाई की है। केंद्रीय जांच एजेंसी की कई दिनों से इस मामले पर नजर थी। बड़ी राशि का लेन-देन होने की वजह से जांच एजेंसी को इसमें काफी दिन लग गए। जब दिल्ली में इसे अंजाम दिया गया तो फिर जांच एजेंसी ने भोपाल में कंपनी के ठिकाने पर कार्रवाई की। इसमें संचालकों व अधिकारियों से भी पूछताछ की गई

दिलीप बिल्डकॉन देश की बड़ी निर्माण कंपनी 

गौरतलब है कि दिलीप बिल्डकॉन देश की बड़ी निर्माण कंपनी है। मध्य प्रदेश के अलावा इसके देशभर में कई राज्यों में सड़क और अन्य प्रोजेक्ट चल रहे हैं। मध्य प्रदेश में भोपाल का मेट्रो प्रोजेक्ट भी इस कंपनी के पास है। दिलीप बिल्डकॉन पर केंद्रीय जांच एजेंसी की कार्रवाई की खबर को जांच एजेंसी ने काफी गुप्त रखा और करीब बारह घंटे बाद इसकी भनक लगी है। इसके बाद दिलीप बिल्डकॉन के निवास पर मीडिया पहुंचना शुरू हुआ।


रेवांचल टाईम्स - भोपाल, केंद्रीय जांच ब्यूरो ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के एक अधिकारी को 20 लाख की रिश्वत दिए जाने के मामले में दिलीप बिल्डकॉन पर बड़ी कार्रवाई की है।


 भोपाल सहित देशभर में नईदिल्ली, बंगलौर, कोचीन, गुडगांव आदि स्थानों पर छापे मारे गए। एनएचएआई के अधिकारी सहित निजी कंपनी के जीएम, ईडी और चार अन्य लोग गिरफ्तार किए गए हैं। इसमें एक सीनियर आईपीएस अधिकारी के भाई भी शामिल हैं। सभी ठिकानों पर छापे में करीब चार करोड़ रुपए की वसूली हुई है।


बताया जाता है कि एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी बंगलौर को 20 लाख रुपए की रिश्वत दिए जाने के मामले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है। इसमें मध्य प्रदेश के बड़े औद्योगिक घराने दिलीप बिल्डकॉन पर भी कार्रवाई की गई है। सीबीआई ने भोपाल सहित बंगलौर, नईदिल्ली, कोचीन, गुडगांव में एकसाथ छापे मारे हैं। कंपनी के ईडी, जीएम सहित चार अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों की गिरफ्तारी हुई है। अब गिरफ्तार लोगों को अदालत में पेश कर कानुूनी कार्रवाई की जाएगी। सीबीआई ने नई दिल्ली, बैंगलोर, कोचीन, गुड़गांव, भोपाल आदि स्थानों सहित आरोपियों के परिसरों में तलाशी की है जिसमें लगभग 4 करोड़ रुपये की वसूली हुई।

इनकी गिरफ्तारी हुई


जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने जिन छह लोगों की गिरफ्तारी की है, उनमेें एनएचएआई के क्षेत्रीय अधिकारी अकील अहमद, कंपनी के महाप्रबंधक रत्नाकरण साजीलाल, कार्यकारी निदेशक देवेंद्र जैन, सुनील कुमार वर्मा सहित एक निजी व्यक्ति अनुज गुप्ता शामिल हैं। महाप्रबंधक साजीलाल, कार्यकारी निदेशक जैन व वर्मा दिलीप बिल्डकॉन के अधिकारी-कर्मचारी हैं। जैन एक आईपीएस अधिकारी के भाई हैं।


रिश्वत के लेनदेन पर थी नजर

बताया जाता है कि निर्माण कार्यों से जुड़े मध्य प्रदेश के औद्योगिक घराने दिलीप बिल्डकॉन पर केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कार्रवाई की है। राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़े एक अधिकारी से लेन-देन से जुड़ा था यह मामला इसलिए सीबीआई ने योजनाबद्ध ढंग से कार्रवाई की है। केंद्रीय जांच एजेंसी की कई दिनों से इस मामले पर नजर थी। बड़ी राशि का लेन-देन होने की वजह से जांच एजेंसी को इसमें काफी दिन लग गए। जब दिल्ली में इसे अंजाम दिया गया तो फिर जांच एजेंसी ने भोपाल में कंपनी के ठिकाने पर कार्रवाई की। इसमें संचालकों व अधिकारियों से भी पूछताछ की गई

दिलीप बिल्डकॉन देश की बड़ी निर्माण कंपनी 

गौरतलब है कि दिलीप बिल्डकॉन देश की बड़ी निर्माण कंपनी है। मध्य प्रदेश के अलावा इसके देशभर में कई राज्यों में सड़क और अन्य प्रोजेक्ट चल रहे हैं। मध्य प्रदेश में भोपाल का मेट्रो प्रोजेक्ट भी इस कंपनी के पास है। दिलीप बिल्डकॉन पर केंद्रीय जांच एजेंसी की कार्रवाई की खबर को जांच एजेंसी ने काफी गुप्त रखा और करीब बारह घंटे बाद इसकी भनक लगी है। इसके बाद दिलीप बिल्डकॉन के निवास पर मीडिया पहुंचना शुरू हुआ।

No comments:

Post a Comment