अभ्यर्थियों को सुलभतापूर्वक अनुमति देने सिंगल विंडो सिस्टम बनाएं - हर्षिका सिंह कलेक्टर ने प्रथम चरण विकासखण्डों के अधिकारियों की ली बैठक - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, December 24, 2021

अभ्यर्थियों को सुलभतापूर्वक अनुमति देने सिंगल विंडो सिस्टम बनाएं - हर्षिका सिंह कलेक्टर ने प्रथम चरण विकासखण्डों के अधिकारियों की ली बैठक

 


 

मण्डला 24 दिसम्बर 2021

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी हर्षिका सिंह ने प्रथम चरण मंे शामिल निवास, नारायणगंज तथा बीजाडांडी के निर्वाचन अधिकारियों तथा पुलिस अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि नाम वापस लेने की प्रक्रिया पूर्ण होने के पश्चात अब अंतिम रूप से अभ्यर्थी निर्धारित हैं। अभ्यर्थियों द्वारा प्रचार-प्रसार एवं अन्य जरूरी कार्यों के लिए प्रशासन से अनुमति ली जानी है। तीनों विकासखण्ड के संबंधित अधिकारी अभ्यर्थियों को आवश्यक एवं सुलभतापूर्वक अनुमति देने सिंगल विंडो सिस्टम बनाएंगे तथा इसका प्रभावी रूप से क्रियान्वयन भी सुनिश्चित करेंगे। श्रीमती सिंह ने संबंधितों को निर्देशित किया कि अभ्यर्थियों को रैली एवं प्रचार संबंधी अनुमति देने के लिए जिम्मेदार व्यक्ति की ड्यूटी लगाएं। अनुमति देने के लिए आवश्यक दस्तावेज एवं प्रक्रिया के संबंध में जानकारी प्रसारित करें तथा अभ्यर्थी से अनुमति के लिए आवेदन मिलने के 24 घण्टे के अंदर सुलभतापूर्वक नियमानुसार अनुमति प्रदान करें। बैठक में पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत, एडीएम मीना मसराम, जिला पंचायत सीईओ सुनील दुबे सहित संबंधित एसडीएम, सेक्टर अधिकारी, पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।

 

असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर कार्यवाही करें

 

                जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सिंह ने राजस्व एवं पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि क्रिटीकल एवं वल्नरेवल मतदान केन्द्रों का सतत रूप से भ्रमण करें। अपने भ्रमण के दौरान ग्रामीणों से बात करें। उन्होंने गांव के असामाजिक तत्वों के बारे में जानकारी लें। साथ ही मैदानी अमले के माध्यम से भी असामाजिक तत्वों एवं वर्तमान परिदृष्य का फीडबैक लें। श्रीमती सिंह ने कहा कि भ्रमण के दौरान किसी भी प्रकार की संवेदनशील जानकारी मिलने पर उनसे संबंधित असामाजिक तत्वों को चिन्हित करते हुए उन पर 107 (16) की कार्यवाही सुनिश्चित करें। राजस्व एवं पुलिस अधिकारी मैदानी स्तर पर लगातार संयुक्त भ्रमण जारी रखें। साथ ही समय-समय पर कोटवार एवं सचिवों की बैठक भी लें।

 

No comments:

Post a Comment