मंडला जिले के 486 सरपंचों का भाग्य अब 7 लाख मतदाता के हाथो पर... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, December 9, 2021

मंडला जिले के 486 सरपंचों का भाग्य अब 7 लाख मतदाता के हाथो पर...


रेवांचल टाईम्स - आदिवासी बाहुल्य जिला मंडला में मप्र में पंचायती राज्य अधिनियम के तहत चुनाव 2019 में होना था लेकिन कोरोना काल के चलते दो वर्ष बीतने के बाद अब चुनाव 2022 के जनवरी माह में तय किया गया है, चुनाव की तिथियों पर मुहर भी लग गई है। मप्र में पंचायती चुनाव की अटकले अब खत्म हो गई है। जहां पंचायत चुनाव की तिथियां की भी मप्र चुनाव आयोग ने घोषणा कर दी है। जिससे अब पंचायत चुनाव की सरगर्मी भी तेज होते नजर आ रहीं है। जिले के नौ विकासखंड की 486 पंचायतों में 7 लाख 35 हजार 229 मतदाता पंचायत चुनाव में मतदान करेंगे। 

जानकारी अनुसार विगत वर्ष नए परिसीमन में जिला मुख्यालय से लगी हुई 11 ग्राम पंचायतों को नगरीय क्षेत्र में शामिल करने की कवायद चल रही थी, जिससे मंडला नगरपालिका के 24 वार्ड की 49741 की आबादी बढ़कर 86210 के साथ 33 वार्ड हो जाती, लेकिन कुछ अटकलों के बीच यह परिसीमन नहीं हो सका और 11 पंचायतें नगरपालिका में नहीं जुड़ सकी। अब आचार संहिता लागू हो गई है। नौ विकासखंड की 486 पंचायतों में पंचायत चुनाव होंगे। मप्र राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदेश में पंचायतों के चुनाव की घोषणा के साथ ही ग्रामीण क्षेत्रों में आदर्श आचार संहिता प्रभावी हो गई है। आदर्श आचार संहिता 23 फरवरी तक प्रभावी रहेगी। 

बता दे कि जिले में पंचायत चुनाव में 7 लाख 35 हजार 229 मतदाता पंचायत चुनाव में खड़े होने वाले प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे। जिले की 11 पंचायतें नए परिसीमन के कारण कम हो जाती लेकिन ऐसा नहीं हो सका। वर्ष 2014 के अनुसार जिले में 486 पंचायतें है। अब इन्हीं पंचायतों में चुनाव होंगे। अब 486 पंचायतों में 486 सरपंच, 7 हजार 541 पंच, 151 जनपद सदस्य और 16 जिला पंचायत सदस्यों के निर्वाचन में मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर अपने पसंदीदा उम्मीदवार का चयन करेंगें।

पंचायत चुनाव के लिए 13 दिसम्बर से नामाकंन पत्र भराया जायेगा। जनपद और जिला पंचायत सदस्य का चुनाव ईवीएम से होगा साथ ही कोरोनावायरस प्रोटोकॉल के अनुसार चुनाव प्रक्रिया संपन्न कराई जाएगी। जिला प्रशासन की ओर से शिकायतों के निराकरण के लिए कंट्रोल रूम भी बनाया जाएगा पंचायत चुनाव में जनपद सदस्य जिला पंचायत सदस्य के मतों की गणना 23 फरवरी को होगी लेकिन पंच और सरपंच के मतों की गणना उसी दिन शाम तक मतगणना केंद्र में घोषित किए जाएंगे।

तीन चरणों में होंगे चुनाव

मध्य प्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी की गई त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन कार्यक्रम के तहत निर्वाचन की सूचना का प्रकाशन और नाम निर्देशन पत्र प्रथम एवं द्वितीय चरण में 13 दिसंबर तीसरे चरण में 30 दिसंबर से मिलेंगे। नाम निर्देशन प्राप्त करने की अंतिम तिथि प्रथम एवं द्वितीय चरण में 20 दिसंबर एवं तीसरे चरण में 6 जनवरी होगी। नाम निर्देशन पत्रों की जांच प्रथम एवं द्वितीय चरण में 21 दिसंबर एवं तृतीय चरण में 7 जनवरी को होगी।  प्रत्याशियों से नाम वापस लेने की अंतिम तिथि प्रथम एवं द्वितीय चरण में 23 दिसंबर एवं तृतीय चरण में 10 जनवरी रहेगी 23 दिसंबर को प्रथम व द्वितीय चरण के प्रत्याशी के नाम वापसी के ठीक बाद चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की सूची तैयार होगी। उन्हें चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे और तृतीय चरण 10 जनवरी को उम्मीदवार की सूची तैयार कर चुनाव चिन्ह आवंटित किए जाएंगे। इसके बाद मतदान प्रथम चरण में 6 जनवरी, द्वितीय चरण में 28 जनवरी को और तृतीय चरण में 16 फरवरी को किया जाएगा।

इन तिथियों में यहां होंगी चुनाव

पंचायत चुनाव की तिथियों के अनुसार जिले में 3 चरणों में मतदान होंगे। जिले में 9 विकासखंड हैं जिसमें प्रथम चरण में तीन विकासखंड द्वितीय में तीन और तृतीय चरण में तीन विकास खंडों में चुनाव संपन्न कराए जाएंगे। 6 जनवरी को पहले चरण का चुनाव होगा, दूसरा 28 जनवरी और तीसरे चरण का चुनाव 16 फरवरी को होगा। जिसके बाद 23 फरवरी को चुनाव परिणाम की अंतिम घोषणा की जाएगी। जिले के 9 विकासखंड को तीन चरणों में बांटा गया है जिसमें प्रथम चरण 6 जनवरी को निवास, नारायणगंज और बीजाडांडी में चुनाव होंगे। द्वितीय चरण 28 जनवरी को होगा जिसमें मंडला, घुघरी, मोहगांव को शामिल किया गया है। वहीं तीसरे चरण का चुनाव 16 फरवरी को होगा जिसमें विकासखंड मवई, नैनपुर और बिछिया को शामिल किया गया है। इन क्षेत्रों में 4 दिसंबर से आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है। जिसमें ईवीएम से मतदान सुबह 7:00 बजे से 3:00 बजे तक पंच सरपंच के मतों की गिनती उसी दिन होगी। वही 23 फरवरी को चुनाव परिणाम की अंतिम घोषणा की जाएगी।

No comments:

Post a Comment