"पहले जिगर के टुकड़ों को कुएं में फेंका ...फिर खुद भी कूद गई मां.....जानिए आखिर क्या थी वजह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, November 22, 2021

"पहले जिगर के टुकड़ों को कुएं में फेंका ...फिर खुद भी कूद गई मां.....जानिए आखिर क्या थी वजह



रेवांचल टाइम्स: बच्चे का इलाज कराने रविवार को पटना के बिक्रम आई एक महिला ने अपने दो छोटे बच्चों के साथ असपुरा स्थित धर्मकांटा के पास कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना पर पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। महिला की उम्र 28 साल थी। दोनों बच्चों में आयुष कुमार की उम्र दो वर्ष, जबकि अंकित तीन माह का था। कुछ समय से महिला की अपने पति से अनबन चल रही थी। उधर, महिला के घर वालों ने ससुरालियों पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। फिलहाल मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुई है।

महिला की पहचान रानीतालाब थाना क्षेत्र के रघुनाथपुर मठिया गांव निवासी लाला यादव की पुत्री निशा देवी के रूप में हुई है। उसकी शादी दुल्हिन बाजार थाना क्षेत्र के हरेरामपुर गांव के दिनेश यादव के पुत्र नीरज कुमार के साथ हुई थी। रविवार को वह अपने मायके से बिक्रम आई थी। घटना की सूचना मिलते ही निशा के मायके वाले बिक्रम थाने पहुंचे। घटना के बारे में कहा जाता है कि सवा बारह बजे महिला अपने दोनों बच्चों को लेकर कुएं के पास पहुंची। आसपास ट्रक लगा था। ट्रक की आड़ लेकर महिला कुएं तक पहुंची। बगल के सैलून वाले ने बताया कि महिला को ट्रक के पीछे उसने जाते हुए देखा था। वह समझा कि शौच आदि के लिए जा रही है। धर्म कांटा का कर्मचारी कुएं के बगल में स्थित चापाकल पर पानी पीने गया तो उसकी नजर कुएं के नीचे महिला की चप्पल पर पड़ी। वह नजदीक जाकर कुएं में झांका तो सन्न रह गया।

पानी की सतह पर दोनों बच्चे उतरा रहे थे। घटना की सूचना पर घटनास्थल पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। पुलिस को घटना की जानकारी मिली तो थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। तीनों के शव को ग्रामीणों के सहयोग से कुएं में सीढ़ी लगाकर निकाला गया। उसके बाद शवों को घंटों शिनाख्त के लिए रखा गया। शाम छह बजे शव की शिनाख्त हो पाई। थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने बताया कि शाम को तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए एम्स पटना में भेज दिया गया है।
‘पहले भी मारने का किया गया था प्रयास’

महिला के भाई प्रद्युम्न कुमार ने पुलिस को बताया कि उसकी बहन को ससुराल वाले दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। छठ के पूर्व भी बहन को मारने का प्रयास किया गया था। महिला ने इसकी सूचना अपने पिता को दी थी। इसके बाद पिता उसे मायके ले आये था। इस दौरान शनिवार की रात महिला की पति से मोबाइल पर झगड़ा भी हुआ। भाई के अनुसार उसके बड़े भांजे की तबीयत खराब थी, जिसे दिखाने के पति नीरज कुमार ने महिला को बच्चे के साथ बिक्रम आने को कहा था। बिक्रम आने के बाद यह घटना घटी।
सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई घटना

अपने दोनों बच्चों को कुएं में फेंकने के बाद खुद उसमें कूद कर जाने देने की पूरी घटना का फुटेज धर्मकांटे पर लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। इसका वीडियो घटना के चंद मिनटों के बाद ही सोशल मीडिया पर वायरल हो गया, जिससे इलाके में सनसनी फैल गई।

मृत महिला के पिता लाला यादव पोस्टमार्टम के लिए एम्स गये हैं। सोमवार को उनके आने के बाद इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। फिलहाल मामले की जांच की जा रहा है।



No comments:

Post a Comment