लो अब इस गांव में किराने की तरह शराब बेच रहे हैं गांववाले...... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Wednesday, November 24, 2021

लो अब इस गांव में किराने की तरह शराब बेच रहे हैं गांववाले......




रेवांचल टाइम्स :देश में शराबबंदी की बातें उठती हैं, लेकिन हम आपको ऐसे गांव की हकीकत दिखा रहे हैं, जहां करीब हर घर में शराब दुकान है। ये गांव है मध्यप्रदेश के राजगढ़ जिले का कटारिया खेड़ी। राजगढ़-ब्यावरा हाईवे पर बसे गांव में अवैध रूप से शराब को गुमटियों के जरिए बेचा जाता है। खुलेआम किराना की दुकान में शराब बोतलें सजाकर रखी जाती हैं। शराब के इस अवैध कारोबार को कैद करने जब भास्कर टीम यहां पहुंची तो खरीदारों ने खुलकर स्वीकारा कि यहां काफी सस्ती शराब उन्हें मिल जाती है। बड़ी बात यह है कि यहां पर बच्चों से लेकर बड़े तक इस कारोबार में लगे हुए हैं।

दुकानदार और खरीदार की बात रिकॉर्ड की गई। खरीदार से पूछा- जेब में क्या है? तो ये जवाब मिला- संतरा फ्लेवर क्वार्टर है। जब भी हम कटारियाखेड़ी से होकर गुजरते हैं तो यहीं से शराब खरीदकर ले जाते हैं। यहां सभी ब्रांड काफी सस्ते में मिल जाते हैं। बहुत सी दुकानें हैं, लाल चाहिए तो लाल लीजिए, सफेद चाहिए तो सफेद। कई बार तो सिर्फ शराब लेने ही आते हैं। पूरा गांव तो यहां शराब बेचता है। गुमटी हो या पक्के मकान... हर जगह शराब मिल जाएगी। पुलिस आती है तो भी हमें शराब लेने में कोई दिक्कत नहीं होती।

हाईवे किनारे कटारिया खेड़ी बना अवैध शराब का गढ़
कटारिया खेड़ी गांव में हाईवे के दोनों ओर अवैध शराब की एक-दो नहीं सैकड़ों दुकानें खुल चुकी हैं। इन दुकानों में हर ब्रांड की शराब उपलब्ध है। यहां से गुजरने वालों के साथ आसपास के ग्रामीण भी कम कीमत पर शराब मिलने के चक्कर में बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। यहां पर यह सुविधा 24 घंटे उपलब्ध है। ऐसा नहीं है कि यह कारोबार किसी से छिपा है। इसी हाईवे से नेता, अधिकारी और पुलिस की गाड़ी गुजरती हैं।

कुछ खुद बनाते हैं, बड़े ब्रांड हरियाणा से लाते हैं

शराब बेचने वालों से जुड़े लाेगाें का कहना है कि इनका ज्यादातर माल हरियाणा से आता है। इन्हें शराब कुछ बड़े तस्कर शराब सप्लाई करते हैं। हरियाणा से कुछ मात्रा में शराब खरीदकर उसी में ब्लैक से मिली शराब को मिलाकर ट्रकों से यहां पहुंचाते हैं। इसके अलावा गांववाले खुद ही कुछ ब्रांड घरों पर तैयार कर लेते हैं। इसके लिए ये बोतल, स्टीकर सहित अन्य माल ऑर्डर कर बनवाते हैं।

चुनाव के समय कई लोगों पर की गई थी कार्रवाई

चुनाव के दौरान एसपी प्रदीप शर्मा, तत्कालीन कलेक्टर निधि निवेदिता ने कड़िया, गुलखेड़ी, दूधी, कटारियाखेड़ी, नई दिल्ली कंजर डेरा, छापीहेड़ा कंजर डेरा सहित कई जगह बड़ी कार्रवाई की थी, हालांकि राजनीतिक संरक्षण के कारण इस कार्रवाई का कोई खास असर नजर नहीं आया। कार्रवाई के बाद यहां पर फिर से दुकानें सज गईं। इन दुकानों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है।

कलेक्टर बोले- होगी कड़ी कार्रवाई

राजगढ़ कलेक्टर हर्ष दीक्षित का कहना है कि जहां-जहां अवैध शराब बिक रही है, उसकी जानकारी जुटाकर पुलिस एवं प्रशासन की संयुक्त कार्रवाई एक बार फिर की जाएगी।

No comments:

Post a Comment