अंजनिया पुलिस की शह से कबाड़ी बना करोड़ पति सरेआम खरीदा जा रहा है चोरी का सामान... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, November 7, 2021

अंजनिया पुलिस की शह से कबाड़ी बना करोड़ पति सरेआम खरीदा जा रहा है चोरी का सामान...





रेवांचल टाईम्स - मंडला नेशनल हाईवे तीस ग्राम अंजनिया नाला के किनारे संचालित कबाड़ सालों से अपनी छोटी मोटा कबाड़ का सामना ख़रीदने वाला अब करोड़ो का मालिक बन चुका है।

               जानकारी के अनुसार अंजनिया निवासी जिसकी सालों से एक छोटी सी कबाड़ की दुकान संचालित थी और वह आसपास के ग्रामीण इलाकों से लोहा प्लास्टिक अन्य कबाड़ का सामना खरीदी किया करता था और विगत तीन चार वर्ष पूर्व ग्राम करियागाँव के खेत से चोरी हुई मोटर पंप को खरीदने के आरोप भी लग चुके है। वही अन्य सामान भी कबाड़ में ख़रीदी की गई और चोरी गये पंप की अंजनिया चोकी में रिपोर्ट भी लिखाई गई पर मामला रफ़ा दफा कर दिया गया और ऐसे कितने समान खेत बॉडी से चोरी हुए पर उन सामानों का आज तक पता नही लग सका।

           सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार मंडला नगर के बाद ये पहली दुकान नेशनल हाइवे में जो कि छत्तीसगढ़ रायपुर भिलाई से आ रहे लोहे वाले ट्रकों से सस्ते दामों में लोहा खरीद खरीद कर आज करोड़ो का मालिक बन चुका है और चोरी के सामानों की खरीद फरोस में स्थानीय पुलिस को भी समय समय मे उसका अपना हिस्सा मिल जाता है शायद इस कारण ये अबैध दुकान के माध्यम से चोरी का माल खरीदा और बेचा गया पर आज तक पुलिस के द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई बल्कि थानों चौकी में आई शिकायतों में मामलों को कबाड़ संचालक और स्थानीय पुलिस की मदद से सब सब रफ़ा दफा कर दिया जाता है और अब देखते देखते एक छोटी सी कबाड़ी की दुकान आज बड़ी गोदाम और चोरी से लिये गए लौहे को नया रूप देकर गेट दरवाजे खिड़की अन्य लोहे की समान बनाये जा रहा है और बिना GST के माल को बेचा जा रहा जिससे सरकार को राजस्व को भारी नुकसान हो रहा वही इस दुकान में जो भी कार्यवाही के उद्देश्य से गया है वह अपने निजी स्वर्थ के चलते कार्यवाही नही की बल्कि उसको नये नए चोरी के सामानों के बेचने का तरीका बताया गए है।

     वही जानकारी के अनुसार इस कबाड़ की दुकान से लगभग 8 से टन लोहा बेचा जा रहा है और पूरे दिन में लगभग 20 से 30 ट्रकों से चोरी का लोहा सस्ते दामों उतारा जाता है जो कि हर ट्रक से 2 से 4 किवंटल लोहा निकाल निकाल कर उन्हें फिर मार्केट से कुछ कम दामों में उसे बेचा जाता है न कोई टैक्स और न कोई जबाबदारी।

            इस ग्राम में बेख़ौफ़ तरीक़े से चोरी के लोहा को बेचा जा रहा और जिला प्रशासन जिम्मेदार सब की सब अपनी जबाबदारी से बचते नजर आ रहे है उसके पीछे की बजय क्या है वह तो.....शेष अगले अंक में...

No comments:

Post a Comment