न्याय के लिए भटक रही नाबालिक जिला प्रशासन से लगाई मदद की गुहार - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, November 9, 2021

न्याय के लिए भटक रही नाबालिक जिला प्रशासन से लगाई मदद की गुहार




रेवांचल टाईम्स - जिले के बंडोल राजस्व निरीक्षक मंडल के कन्हरगाव हल्का में स्थित कृषि भूमि खसरा नंबर   356,359 कुल रकवा 1.94 से जुड़ा है जिसे नाबालिक अनाथ कन्या के चाचा अरविंद पिता टीकाराम साहू द्वारा अपने साथियों के साथ षड्यंत कूटरचना से दोबारा रजिस्ट्री नामांतरण करवा कर जमीन हड़पने की शिकायत पुलिस मुख्यालय पहुँचकर  सिवनी पुलिस कप्तान  कुमार प्रतीक से न्याय दिलवाए जाने की गुहार लगाई है।वही नाबालिक के नाना पदम साहू ने मीडिया को दिए साक्षात्कार में हल्का पटवारी द्वारा नाबालिक के नाम कृषि भूमि पर राजस्व रिकार्ड में नाम दर्ज करवाने एक लाख रुपये रिश्वत की माँग किये जाने का आरोप लगाया है।





       शिकायतकर्ता आवेदिका ने छिन्दवाड़ा पुलिस अधीक्षक को उसके पिता के परिवार के सदस्यों द्वारा ह्रासमेन्ट किये जाने व पिता की संपत्ति हड़प किये जाने की भी शिकायत की है। नाबालिक के पिता ने अपने पड़ोसी भगवत राजपूत से उक्त भूमि 1997 में खरीदकर रजिस्टर्ड बैनामा करवाया था। नामांतरण होने के पूर्व ही पिता ने परिवारिक कलह के चलते जहरीला पदार्थ सेवन कर आत्महत्या कर ली थी ।उस समय अनाथ बालिका जो पुनर्वास केंद्र झूला में निवासरत है माँ की गोद मे पल रही थी। जो अपने चाचा जो कृषि भूमि की जोत कर रहे है ।के विरुद्ध तहसीलदार बंडोल न्यायालय में धारा 250 के तहत आज दिनांक में भी प्रकरण प्रचलन में है। वही नायब तहसीलदार द्वारा धारा 110 के तहत कार्यवाही को खारिज पश्चात अनुविभागीय अधिकारी के यहाँ भी प्रकरण प्रचलन में है ।250 के मामले में हल्का पटवारी द्वारा प्रतिवेदन में अरविंद साहू द्वारा जोत करते हुए फसल लगाने की बात कही गई है वहीं अरविंद साहू ने भाई के नामें 1997 में रजिस्ट्री बैनामा की बात रखी गई है ।

     नाबालिक आवेदिका की ओर से धारा 110 की कार्यवाही का आवेदन पेश होने के उपरांत ही चाचा ने अपने सहयोगियों के साथ कूटरचना रचकर जुलाई 2021 में दोबारा रजिस्ट्री बैनामा करवाकर क्रेता के नाम विवादित भूमि नामांतरण करवा लिया। जिसमें तहसीलदार  हल्का पटवारी की भूमिका भी संदेह के घेरे में नजर आ रही है।चूंकि उक्त प्रकरण की संपूर्ण जानकारी हल्का पटवारी नायब तहसीलदार बंडोल को होने के बाबजूद नामांतरण कर राजस्व रिकार्ड में फेरबदल कर दिया गया है। वही आवेदिका ने क्रेता विक्रेता व साक्षीयों के विरुद्ध दंडात्मक कार्यवाही की मांग की है जिसे विद्वान पुलिस कप्तान ने गंभीरता से लेते हुए। अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सिवनी को  दोषियों के विरुद्ध समुचित दण्डात्मक धाराओं के अन्तर्गत प्रकरण पजीवद्ध करने का आदेशित किया गया है।


अखिल बन्देवार के साथ रेवांचल टाईम्स की एक रिपोर्ट

No comments:

Post a Comment