नगर में दूसरे दिन भी रहा मडई का जोर लोगो ने जमकर की खरीदी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, November 16, 2021

नगर में दूसरे दिन भी रहा मडई का जोर लोगो ने जमकर की खरीदी





रेवांचल टाइम्स शहपुरा.. कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष की

ग्यारस तिथि को हिन्दू मान्यता अनुसार सारे देवता जाग जाते है हिन्दु धर्म की मान्यतानुसार इस तिथि में तुलसी और भगवान शालिगराम का विवाह गन्ने का मंडप बनाकर किया जाता है और इस तिथि के बाद हिन्दुओ के सारे कार्यो की शुरूआत हो जाती है जिसके तहत  नगर मुख्यालय में तुलसी और भगवान शालिगराम के विवाह के साथ मढई का अगाज किया गया ,नगर में भरने वाली मडई दो दिनो की होती है जिसके तहत पहले दिन तो आसपास के लोग इस मडई में आते है व दूसरे दिन जिसे स्थानीय भाषा में गुदरी मडई कहा जाता है इसमें स्थानीय लोगो ने  भी जमकर खरीददारी की और देर शाम तक मडई प्रागंड लोगो की भीड से भरा रहा । मढई के दूसरे दिन स्थानीय लोगो ने जमकर खरीदी की मढई में सबसे ज्यादा कपडे कांदा सिधाडां गन्ना और अन्य चीजो को लोगो ने खरीददारी की इस बाद मडई में ज्यादा भीड भाड नजर आई चूकि कोरोना महामारी के चलते पिछले वर्ष मडई का आयोजन नहीं हुआ था पर इस बार मडई लगी जिसके कारण मडई में अधिक दुकानदारो ने अपनी दुकान लगाई और जमकर लोगो ने भी खरीददारी है शहपुरा नगर की मडई जिले की पहली मडई होने के कारण दूर दूर से लोग मडई का लुॅफत उठाने शहपुरा नगर की मडई आते है और दो दिनो तक नगर में मडई का आयोजन चलता रहता है शहपुरा मडई के बाद पूरे तहसील में व जिले में अलग अलग तिथियो को मडई का आयोजन होने लगेगा

No comments:

Post a Comment