बोले गांव में विसर्जन के बाद भी पूरी तरह विसर्जित नहीं हूई माता की प्रतिमा, शीघ्र ही विसर्जित किये जाने की, कि माँग... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, November 26, 2021

बोले गांव में विसर्जन के बाद भी पूरी तरह विसर्जित नहीं हूई माता की प्रतिमा, शीघ्र ही विसर्जित किये जाने की, कि माँग...





रेवांचल टाईम्स - समिति ने नहीं दिया ध्यान, अभी भी तालाब में खड़ी है मूर्ति

       लांजी थानांतर्गत आने वाले ग्राम बोलेगाव में समिति के द्वारा माता लक्ष्मी की मूर्ति स्थापित की गई थी। जिसके पूजन अर्चन के बाद समिति द्वारा माता लक्ष्मी की मूर्ति को बोलेगांव के बस स्टेड के पिछे डोरली रोड के समीप तालाब में विधि विधान से विसर्जित किया गया। परंतु समिति  के सदस्यों  नें माता की प्रतिमा को तालाब के गहरे पानी के स्थान पर तालाब के किनारे से ही विसर्जित कर दिया है जिसके कारण माता की प्रतिमा पूर्ण से विसर्जित नहीं हो पाई है और अभी भी तालाब के किनारे खड़ी है। जिससे आवारा मवेशी कभी भी नुकसान पहुंचा सकते है। ग्राम के गणमान्यों का कहना है कि किसी भी भगवान या ईष्ट देव की प्रतिमा लोगों की आस्था का प्रतीक होती है उसे इस तरह तालाब में छोड़ देना उचित नहीं है। ग्रामीणों ने समिति के सदस्यों से  उक्त प्रतिमा को तालाब के गहरे पानी में शीघ्र ही विसर्जित किये जाने की मांग की है। जिससे लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस न पहुंचे।


रेवांचल टाइम्स लांजी, बालाघाट से खेमराज सिंह बनाफरे

No comments:

Post a Comment