लिफ्ट में 50 मिनट फंसा रहा मासूम बच्‍चा, दम घुटने पर उतार दिये कपड़े, लेकिन नही मानी हार - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Tuesday, November 2, 2021

लिफ्ट में 50 मिनट फंसा रहा मासूम बच्‍चा, दम घुटने पर उतार दिये कपड़े, लेकिन नही मानी हार



गाजियाबाद (Ghaziabad) के पॉश इलाके राजनगर एक्सटेंशन की एक सोसायटी केडब्ल्यू सृष्टि से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां पर एक 10 साल का बच्चा 12वीं मंजिल पर करीब 50 मिनट तक लिफ्ट में फंसा रहा। जब बच्चे का दम घुटने लगा तो उसने कपड़े उतार दिए। यह पूरा मामला लिफ्ट (lift) में लगे सीसीटीवी में कैद हो गया। गनीमत यह रही कि बच्चे को सकुशल निकाल लिया गया। बताया जा रहा है कि पहले भी कई बार इस सोसायटी की लिफ्ट खराब हो चुकी है।

50 मिनट तक लिफ्ट में फंसा रहा बच्चा
बच्चा 5वीं मंजिल से 12वीं पर अपने दोस्त से मिलने गया था। तभी अचानक 11वीं और12वीं मंजिल के बीच लिफ्ट अचानक रुक गई। इस दौरान बच्चे ने हिम्मत दिखाई और अलार्म का बटन दबाया और इंटरकॉम पर बात करने की कोशिश भी की लेकिन अलार्म और इंटरकॉम बटन ने काम नहीं किया। इसके बाद वो जोर- जोर से दरवाजे को पीटने लगा और वहां से गुजर रहे लोगों को बच्चे के लिफ्ट में फंसे होने की जानकारी मिली।

सीसीटीवी पर नहीं थी नजर
लापरवाही की हद इतनी है कि सोसायटी के किसी भी सुरक्षा गार्ड ने सीसीटीवी कैमरे पर नजर ही नहीं रखी। अन्यथा बच्चे को जल्दी ही लिफ्ट से बाहर निकाला जा सकता था। इस घटना के बाद से सोसायटी में डर का माहौल पैदा हो गया है और बच्चों ने लिफ्ट का इस्तेमाल करना भी बंद कर दिया है।





बच्चे पिता ने थाने में मामले की शिकायत दर्ज कराई
सोसायटी के लोगों ने इस घटना की जानकारी बच्चे के परिजनों को दी। बच्चे के पिता गौरव शर्मा ने कुछ लोगों की मदद से कड़ी मशक्कत के बाद अपने बच्चे को सकुशल बाहर निकाला और इस मामले की शिकायत नंदग्राम थाने(Nandgram Police Station) में की। यह घटना 29 अक्टूबर की बताई जा रही है। बच्चे के पिता का आरोप है कि जब उन्होंने बच्चे के लिफ्ट में फंसने की शिकायत मेंटेनेंस वालों से की तो समस्या का समाधान निकालने की जगह उल्टी उनसे बदसलूकी की।


No comments:

Post a Comment