दिल दहला देने वाला मामला :दोस्‍त के बच्‍चे को किडनैप किया, शोर मचाने पर मार डाला फिर चार दिन तक लाश के साथ सोए हैवान - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, October 9, 2021

दिल दहला देने वाला मामला :दोस्‍त के बच्‍चे को किडनैप किया, शोर मचाने पर मार डाला फिर चार दिन तक लाश के साथ सोए हैवान



दिल्ली से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां पर एक पड़ोसी ने अपने एक नाबालिग दोस्त के साथ मिलकर पहले तो 5 साल के बच्चे को फिरौती के लिए किडनैप किया और फिर बड़ी ही बेरहमी से बच्चे को मौत के घाट उतार दिया. इतना ही नहीं दोनों आरोपी मासूम की लाश के साथ4 दिन तक उसी कमरे में सोते रहे फिर डेडबॉडी को कंबल में लपेटकर ठिकाने लगा दिया.

दरअसल, मंगोलपुरी T-ब्लॉक के रहने वाले हरपाल ई-रिक्शा चलाते हैं. इनका एक 5 साल का बच्चा है. जिसका नाम मोक्ष है. एक दिन मोक्ष घर से गायब हो गया. पिता ने उसकी बहुत तलाश की, दर बदर की ठोकरें खाई, लेकिन बेटे मोक्ष का पता नहीं चल पाया. जिसके बाद हरपाल 1 अक्टूबर को बेटे की गुमशुदगी की शिकायत राजमार्ग थाने में दर्ज कराई. मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस बच्चे की तलाश करने में जुट गई.

इसी बीच मंगोलपुरी चर्च के पास नाले के बाहर गुरुवार को एक बॉडी कंबल में लिपटी होने की कॉल आई जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो पाया कि कंबल में 5 साल के बच्चे का शव था. जो की दो-तीन दिन पुराना लग रहा था. बच्चे के शरीर पर चोट के निशान थे. जांच की गई तो पता चला कि ये वही बच्चा मोक्ष है, जिसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट 1 तारीख को उसके फादर हरपाल ने दर्ज कराई थी.

जिसके बाद पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे को खंगाला गया, जिनमें दो लड़के कंबल में लपेट कर कुछ लाते हुए देखे गए इनमें से एक की पहचान बच्चे के पड़ोसी सुभाष के रूप में हो गई. पुलिस में सुभाष को हिरासत में लेकर पूछताछ की जिसमें उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया.

पुलिस ने उसकी निशानदेही पर वारदात में शामिल नाबालिग को भी दबोच लिया. आरोपियों ने बताया कि पैसों के लिए उन लोगों ने बच्चे को अगवा किया था. 1 दिन बाद ही बच्चे ने शोर मचाया तो पकड़े जाने के डर से उसकी हत्या कर दी.

No comments:

Post a Comment