न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मक्का की सरकारी खरीद की मांग ने पकड़ा जोर... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, October 3, 2021

न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मक्का की सरकारी खरीद की मांग ने पकड़ा जोर...





रेवांचल टाईम्स - एक सैकडा से अधिक पंचायतों ने सौपा ज्ञापन~ ओबीसी महासभा..

    बहुतायत में बोई गई सिवनी जिले में मक्का की फसल को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर सरकारी खरीदी की मांग को लेकर ओबीसी महासभा के कार्यकर्ताओं पदाधिकारीयों द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी व प्रथम प्रधानमंत्री चाचा नेहरू की जयंती  ग्रामीण क्षेत्रों में मनाई गई व क्षेत्रीय विधायकों के नाम ज्ञापन सौपे गए । ओबीसी महासभा के जिला सयोंजक लोकेश साहू के हवाले से जिला प्रवक्ता मीडिया प्रभारी राजेश पटेल ने बताया की उक्त कार्यक्रम क्रमशः 5 अक्टूबर तक जारी रहेगा।वही आज आयोजित ग्राम सभा मे मक्के के समर्थन मूल्य पर खरीदी के लिए ग्रामसभाओं में भी शासन को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर मक्का की खरीदी करने के प्रस्ताव पारित हुए है।ओबीसी महासभा ने मांग रखी है कि मक्का को एमएसपी पर खरीदी करने के लिए पंजीयन अति शीघ्र शुरू किया जाए ताकि समय पर समर्थन मूल्य 1870 प्रति क्विंटल खरीदी पूर्ण हो सके। मध्य प्रदेश सरकार ने मक्के को अपनी उपज खरीदी सूची से हटा दिया है। इससे नाराज ओबीसी महासभा के साथ क्षेत्रीय किसान आंदोलन पर उतारू हैं। विगत दिनों 23 अक्टूबर को किसान सम्मेलन के बाद मुख्यमंत्री और राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित कर अपनी चिंताओं से अवगत कराते हुए शीघ्र अति शीघ्र मक्के की खरीदी हेतु पंजीयन करने की प्रक्रिया शुरू करने की माँग की थी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अतः ओबीसी महासभा   किसानों के साथ 2 अक्टूबर से सत्याग्रह कर अपने घोषित आंदोलन अनुसार अपनी-अपनी पंचायतों के माध्यम से अपने मान. विधायकों को ज्ञापन प्रेषित कर अपने स्तर पर प्रयास कर राहत दिलाने की प्रार्थना कर रहे हैं।  केवलारी ब्लाक की 2 पंचायतों से उपस्थितजनों के बीच ग्रामसभा से बाकायदा प्रस्ताव पारित कर मक्के की एम.एस.पी पर खरीदी सुनिश्चित करने प्रस्ताव पारित हुए है इनमें डूंडासिवनी (पलारी तिगड्डा) और ग्राम पंचायत ग्वारी  शामिल हैं जहाँ ओबीसी महासभा कार्यकारी अध्यक्ष श्री रामकृष्ण ठाकुर और जनप्रतिनिधि मोर्चा जिला अध्यक्ष उमा प्रसाद ठाकुर की उपस्थिति उल्लेखनीय रही है। 


 राखूराम चक्रवर्ती द्वारा सीलादेही पंचायत से गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर की गई।सिवनी  ब्लाक अध्यक्ष पहलवान रामायण सिंह पटेल के मार्गदर्शन में बिठली, छिड़िया पलारी, छतरपुर, बोरदई, मैली सहित अन्य ग्रामपंचायतों में ज्ञापन सौंपे गए।  ब्लाक संयोजक राधेश्याम सराठे द्वारा जिला उपाध्यक्ष रंजीत (रानू) साहू के मार्गदर्शन में गोपालगंज पंचायत में ज्ञापन सौंपा गया। बखारी ब्लाक उपाध्यक्ष आनंद साहू,  सुकवाहा पंचायत ब्लाक महासचिव श्रीराम सनोडिया ,ग्राम पंचायत फुलारा लेखराम सनोडिया, चावड़ी  गेंदलाल सनोडिया  चेतराम सनोडिया ग्राम पंचायत नंदौरा में जिला प्रवक्ता योगेश सूर्यवंशी सहित लोनिया व अन्य ग्राम पंचायतों ज्ञापन दिए गए है।


बरघाट ब्लाक के धान उत्पादन क्षेत्रों के किसानों द्वारा नयागांव (रैयतवाड़ी), टिकारी, आमागढ़ आदि पंचायतों में जिले के मक्का किसानों की माँग का समर्थन करते हुए सरपंच/सचिव को ज्ञापन सौंपे गए। 


लखनादौन ब्लाक में ब्लाक संयोजक शिवप्रसाद गोल्हानी के मार्गदर्शन में सिहोरा, गोसाईखमरिया, घोघरीनागन, ऊँट खमरिया, घोघरी सिहोरा, नवलगाँव, भिलमा, पुरवा माल, सेलुआ, जोगीगुफा, घूरवाड़ा (धूमा), सिरमंगनी, घोघरी-घूरवाड़ा, मोहगाँव (आदेगांव), बीबी-कटोरी, नागनदेवरी, खमरिया गूर्जर, जुगरई आदि पंचायतों से अपने विधायक योगेन्द्र सिंह बाबा को ज्ञापन सौपे गए। 


धनौरा ब्लाक में जिला महामंत्री मथन यादव के मार्गदर्शन में अपने विधायक को ज्ञापन भेजकर मक्का खरीदी प्रक्रिया शुरु करने की माँग की। सालीवाड़ा पंचायत में 4 गांवों के लोगों ने, इसी तरह पाडीवाड़ा व नाई पिपरिया किसानों ने ज्ञापन सौंपकर अपनी मांग प्रेषित की। हिंगवानी, सलेमा, घोघरीमाल आदि पंचायतों में भी बड़ी संख्या में किसानों ने एकत्रित होकर नारेबाजी के साथ ज्ञापन प्रेषित कर अपने इरादे व्यक्त किए । अतिशीघ्र मक्का खरीदी प्रक्रिया शुरु नहीं हुई तो अगले चरण में 7 से 15 अगस्त तक आमरण अनशन के अपना हक लेकर रहेंगे।

No comments:

Post a Comment