पैदा होते ही मिलेंगे बर्थ और कास्ट सर्टिफिकेट्स - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Friday, October 8, 2021

पैदा होते ही मिलेंगे बर्थ और कास्ट सर्टिफिकेट्स



भोपाल | अब किसी बच्चे का जन्म होता है तो उसका बर्थ सर्टिफिकेट उसी समय बना दिया जाएगा। अगर बच्चे के माता-पिता अनुसूचित जाति या जनजाति के हैं तो बच्चे का जाति प्रमाण पत्र भी बर्थ सर्टिफिकेट के साथ ही बनाकर सौंंप दिया जाएगा। लोक सेवा केंद्रों से जुड़ी विभिन्न सेवाओं का विस्तार तहसील से भी आगे ग्राम पंचायत स्तर पर मिलने की व्यवस्था की शुरू की जाएगी।

जनकल्याण और सुराज अभियान के समापन दिवस पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को यह ऐलान किया। चौहान ने कहा कि विशिष्ट नागरिक सेवाएं जैसे वाहनों की फिटनेस, ड्राइविंग लाइसेंस का नवीनीकरण, वाहन पंजीयन, दस्तावेजों की प्रमाणित नकल, चलित मोबाइल, टॉयलेट, सेप्टिक टैंक, सीवेज सफाई, वॉटर टैंक के लिए सेवाएं निजी सेवा प्रदाताओं के माध्यम से भी प्रदान की जाएगी।

181 जनसेवा व्हाट्सएप नंबर पर
चौहान ने कहा कि जल्द ही 181 जनसेवा पर रजिस्टर्ड व्हाट्सएप नंबर पर भेजे जाने की व्यवस्था भी शुरू की जाने वाली है। लोगों को खसरा की प्रति 10 रुपए प्रति पृष्ठ उपलब्ध कराई जाएंगी। चौहान ने कहा कि सिंगल क्लिक से सात नये पोर्टल और आठ लोक सेवा केंद्र प्रारंभ किए। सामान्य प्रशासन विभाग,नगरीय विकास,योजना एवं सांख्यिकी,गृह और ऊर्जा विभागों के नवीन पोर्टल प्रारंभ किए गए। इन पोर्टल से नागरिकों को मिलने वाली जन सुविधाएं बढ़ेंगी और उनके कार्य आसान होंगे। अब गृह विभाग के पोर्टल पर ई एफआईआर हो सकेगी।

ई-रुपी व्यवस्था ई-वाउचर के रूप में लागू होगी
मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में "ई-रुपी" की व्यवस्था को ई-वाउचर के रूप में लागू किया जाएगा। सभी विभागों में बिलों के समय पर भुगतान के लिए बिल पेमेंट की ऑनलाईन व्यवस्था लागू की जायेगी। चौहान ने सुराज अभियान का समापन करते हुए कहा कि समस्त हितग्राही मूलक योजनाओं के लिए आवेदन से लेकर हितलाभ वितरण या अंशदान देने की पूरी प्रक्रिया को ऑनलाईन किया जायेगा। उच्च शिक्षा विभाग, विद्यार्थियों को मिलने वाली सेवाऐं जैसे - काउंसलिंग, एडमिशन, छात्रवृत्ति प्रदाय आदि को एक वर्ष में पूर्णत: ऑनलाईन करने की व्यवस्था करेगा। समस्त सरकारी भर्तियों में चयनित अभ्यर्थियों के चरित्र सत्यापन के संबंध में वर्तमान प्रचलित प्रक्रिया सरल करते हुए केवल शपथ पत्र के आधार पर नियुक्ति एवं ज्वाईनिंग दी जायेगी।

No comments:

Post a Comment