खरगोन में आदिवासी की मौत पर एसपी को हटाया - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Sunday, September 12, 2021

खरगोन में आदिवासी की मौत पर एसपी को हटाया



मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में चोरी के आरेाप में गिरफ्तार आदिवासी युवक की जेल में हुई मौत के मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान को हटा दिया है।

ज्ञात हो कि पिछले दिनों बिस्टान थाना क्षेत्र में चोरी के आरोप में पुलिस ने 12 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था, जिसमें से एक बिसन की जेल में मौत हुई थी। इसके बाद भीड़ ने बिस्टान थाने पर हमला बोला था। इस दौरान पुलिस भीड़ के बीच जमकर झडप भी हुई थी। कांग्रेस के पूर्व प्रदेषाध्यक्ष अरुण यादव के नेतृत्व में कांग्रेस के प्रतिनिधि मंडल ने पुलिस महानिदेषक विवेक जौहरी को ज्ञापन देकर देाषियों पर हत्या का मामला दर्ज किए जाने की मांग की थी। वहीं कांग्रेस ने एक जांच समिति भी बनाई थी।

मुाख्यमंत्री चौहान ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चैहान केा हटाने का ऐलान करते हुए कहा, पिछले दिनों खरगोन जिले के बिस्टान में हुई घटना में एक युवक की मृत्यु हो गई थी। हमने पहले ही पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है। लैक ऑफ सुपरवीजन के कारण हमने खरगोन पुलिस अधीक्षक को भी हटाने का निर्णय लिया है। घटना की न्यायिक जाँच हो रही है। तथ्यों के आधार पर आगे कार्रवाई होगी।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मीडिया विभाग के महासचिव के के मिश्रा ने पुलिस अधीक्षक पर कार्रवाई की वजह कांग्रेस की जांच समिति की रिपोर्ट को बताते हुए पुलिस वालों पर गैर इरादतन हत्या का मामला करने की मांग करते हुए कहा, बिस्टान में पुलिस अभिरक्षा में हुई आदिवासी की मौत के मामले में पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देश पर गठित कांग्रेस की समिति द्वारा सार्वजनिक की गई रिपोर्ट के बाद खरगौन एसपी नपे। यह निर्णय अपर्याप्त है, गैर इरादतन हत्या का भी प्रकरण दोषियों के खिलाफ दर्ज हो।

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ न्यूज नेशन टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.

No comments:

Post a Comment