सौतेली माँ बनी डायन, 10 साल के मासूम के खाने में जहर मिलाया और फिर रचाई झूठी कहानी ........... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Wednesday, September 29, 2021

सौतेली माँ बनी डायन, 10 साल के मासूम के खाने में जहर मिलाया और फिर रचाई झूठी कहानी ...........



ग्वालियरः मध्य प्रदेश के ग्वालियर जिले में 10 साल के मासूम के जहर खाने से मौत का मामला सामने आया था. पूरे मामले में जांच के बाद पुलिस ने उजागर किया कि बच्चे की सौतेली मां ने ही खाने में जहर मिलाया था. सबूतों के आधार पर पुलिस ने आरोपी से पूछताछ की और उसने गुनाह कबूल कर लिया. पुलिस ने मृतक नितिन की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपी जूली के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया.

10 लाख रुपयों के लिए मार डाला
जिले के मुरार थाना क्षेत्र से सामने आए इस मामले में राजू मिर्धा के 10 साल के बेटे की शुक्रवार की रात संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की हुई थी. मृतक के पिता ने बताया कि नितिन ने रात में खाना खाया, तभी उसे बैचेनी महसूस लगी. हालत बिगड़ने के बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उसकी मौत हो गई.

मां ने कहा- सांप ने डंस लिया
बच्चे की मौत के वक्त सौतेली मां जूली ने कहा था कि बच्चे को सांप ने डंसा है. डॉक्टर को शंका हुई और उन्होंने पोस्टमार्टम रिपोर्ट निकालने की बात कही. जहर देने की बात पर पुलिस ने तलाशी और पूछताछ शुरू की. छानबीन में पता लगा कि जूली मृतक की सौतेली मां है. मृतक के पिता राजू की पहली पत्नी की मौत भिंड रोड पर 2019 में एक हादसे के दौरान हो गई थी.

बेटियों के लिए उठाया कदम
पत्नी की मौत के बाद पति राजू को 16 लाख रुपये मिले थे. उन रुपयों से उसने बेटे के नाम पर 10 लाख रुपये जमा करा दिए थे, उनसे ही एक प्लाट भी खरीद लिया था, जो नितिन के नाम पर ही था. इसी कारण जूली को जलन होती थी, वह मासूम से नफरत करने लगी थी, उसे अपनी बेटियों के भविष्य की चिंता होने लगी थी. इसी कारण वह अपने पति से आए दिन उन रुपयों को उसके नाम करने के लिए झगड़ा किया करती थी.

पूछताछ में कबूल किया जुर्म
शक के आधार पर पुलिस ने जूली से पूछताछ शुरू की. पूछताछ में जूली ने माना कि उसी ने प्लाट व 10 लाख रुपयों के बदले नितिन के खाने में जहर मिला दिया था. पोस्टमार्टम रिपोर्ट सामने आते ही पुलिस ने मामले में आरोपी मां के खिलाफ हत्या की रिपोर्ट दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया.

No comments:

Post a Comment