MP: पिता और पत्नी को काट दिया कुल्हाड़ी से, पास में ही थे बच्चे, जानिए शख्स ने क्यों उठाया ये खौफनाक कदम - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, July 3, 2021

MP: पिता और पत्नी को काट दिया कुल्हाड़ी से, पास में ही थे बच्चे, जानिए शख्स ने क्यों उठाया ये खौफनाक कदम



जबलपुर। मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक बेटे ने पहले अपने वृद्ध पिता की कुल्हाड़ी से हत्या की,फिर अपनी जवान पत्नी को भी मौत के घाट उतार दिया। हत्याएं करने के बाद वह कुल्हाड़ी लेकर घर के दरवाजे पर बैठ गया।
इन हत्याओं को लेकर जब आरोपी से कारण पूछा गया तो उसकी बात सुन सब हैरान रह गए। उसने बताया कि दोनों के बीच अवैध संबंध थे। तीन दिन पहले ही उसने पिता और अपनी पत्नी को आपत्तिजनक हालत में देखा था और समझाया था, लेकिन दोनों नहीं माने।बेलखेड़ा पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेते हुए हत्या का प्रकरण दर्ज कर लिया है।


वारदात शुक्रवार देर रात जबलपुर – बेलखेड़ा के गोकलाहार गांव की है। बेलखेड़ा टीआई सुजीत श्रीवास्तव ने मुताबिक गोकलाहार गांव निवासी अर्जुन सिंह लोधी ने डबल मर्डर की सूचना दी। उसने बताया कि भतीजे संतोष लोधी (35) ने शुक्रवार की देर रात अपने पिता और पत्नी की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी है।


सूचना मिलते ही बेलखेड़ा पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची। संतोष लोधी रक्तरंजित कुल्हाड़ी लेकर घर के दरवाजे पर बैठा हुआ था। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। घर के अंदर पुलिस पहुंची तो एक कमरे में बिस्तर पर पिता अमान सिंह लोधी (65) लहूलुहान हालत में मृत पड़े थे। तो फर्श पर कविता लोधी (32) खून से लथपथ हालत में पड़ी थी। पूरे कमरे में खून बिखरा हुआ था।

संतोष लोधी और कविता लोधी की शादी 15 साल पहले हुई थी। उनकी 14 साल का बेटा और 12 साल की बेटी है। पिता के खूनी खेल का मंजर देख दोनों सन्न रह गए। पड़ोस में रहने वाले संतोष लोधी के चाचा अर्जुन लोधी दोनों बच्चों को अपने घर ले गए।

No comments:

Post a Comment