म.प्र. अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चे के तृतीय चरण के आंदोलन के तहत प्रदेश मुख्यालय जिला मुख्यालय तहसील मुख्यालय एवं ब्लॉक मुख्यालय रहेंगे बंद - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, July 29, 2021

म.प्र. अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चे के तृतीय चरण के आंदोलन के तहत प्रदेश मुख्यालय जिला मुख्यालय तहसील मुख्यालय एवं ब्लॉक मुख्यालय रहेंगे बंद



रेवांचल टाइम्स: - मध्य प्रदेश अधिकारी कर्मचारी संयुक्त मोर्चा के आह्वान पर कल 29 जुलाई को प्रदेश के 52 जिलों में समस्त कार्यालयों में कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर रहेंगे कर्मचारी अधिकारी अधिकारियों कर्मचारियों की न्यायोचित मांगों के निराकरण ना होने के फलस्वरूप प्रदेश के कर्मचारी अधिकारियों में आक्रोश है। 

आंदोलन से सरकार को समझ में आ जाना चाहिए जिस प्रकार से पूरे प्रदेश में कर्मचारियों ने सामूहिक अवकाश का आवेदन दिया है और प्रदेश के कर्मचारी आंदोलन  में ऐसा पहली बार हुआ है कि राज्य प्रशासनिक सेवा संघ ने भी संयुक्त मोर्चा के आंदोलन को अपना समर्थन दिया है संदेश के अधिकारियों कर्मचारियों का मनोबल बढ़ा है कर्मचारी जगत

अनिश्चितकालीन आंदोलन के लिए भी तैयार है अतः मध्य प्रदेश सरकार मांगों का निराकरण जल्द से जल्द करें

प्रमुख मांग

1-  1 जुलाई  2020 एवं 1 जुलाई  2021  की वेतन वृद्धि में  एरियश की राशि का भुगतान किया जाए

2-   प्रदेश के कर्मचारियों अधिकारियों एवं पेंशनरों को केंद्र के समान केंद्रीय तिथि से 16% प्रतिशत महंगाई भत्ता का भुगतान किया जावे

3. कर्मचारियों अधिकारिओ की  पदोन्नति  अति शीघ्र प्रारम्भ कि जावे

4. गृह भाड़ा भत्ता केंद्रीय कर्मचारियों की भात प्रदेश के अधिकारी कर्मचारियों को दिया जावे तीसरे चरण के आंदोलन मे प्रदेश के प्रमुख कर्मचारी संगठनों ने सामूहिक अवकाश में अपनी पूर्ण भूमिका का निर्वहन किया है।

राजपत्रित अधिकारी संघ  ,म.प्र.तृतीय वर्ग शा.कर्मचारी संघ ,म.प्रलघु वेतन कर्मचारी संघ, म.प्र. कर्मचारी कांग्रेस , म.प्र.राज्य कर्मचारी संघ, म.प्र.,म.प्र. अनुसूचित जाति जनजाति पिछड़ा वर्ग अधिकारी कर्मचारीसंघ(अपाक्स ) , म.प्र अनुसूचित जाती जनजाति कर्मचारी संघ (अजाक्स )मध्य प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ  म.प्र लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ , मध्य प्रदेश वन कर्मचारी संघ , म.प्र राजस्व निरीक्षक संघ, मध्य प्रदेश पटवारी संघ, मध्य प्रदेश वाहन चालक यात्रीकी संघ, म.प्र  शिक्षक कांग्रेस,प्राध्यापक संघ मध्य प्रदेश डिप्लोमा इंजीनियर संघ, म.प्र,सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी संघ ,तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ, निगम मंडल कर्मचारी महासंघ, मध्य प्रदेश पंचायत सचिव संगठन म.प्र तहसीलदार संघ*मध्य,म.प्र.चिकित्सा अधिकारी संघ , मध्य प्रदेश मुख्य कार्यपालन अधिकारी संघ, मध्य प्रदेश नगर पालिका नगर निगम अधिकारी कर्मचारी संघ, म.प्र संविदा अधिकार आन्दोलन प्रबंधन समिति, म.प्र स्थाई कर्मी संघ, म.प्र .समयपाल कर्मचारी संघ म.प्र.पेंशनर एसोसिएशनसंघ ,मंडी बोर्ड कर्मचारी संघ संयुक्त मोर्चा ,बेंकरकर्मचारी संघ संयुक्त मोर्चा ,म.प्र.सहायक शिक्षक /शिक्षक मोर्चा संघ ,नियमित शिक्षक संघ ,समग्र शिक्षक संघ ,शा.अध्यापक संगठन ,राज्य शिक्षक कांग्रेस ,राज्य निर्माण विभाग कर्मचारी संघ ,म.प्रपंजीयन विभाग अधिकारी कर्मचारी संघ ,म.प्र.न्यायिक कर्मचारी संघ ,म.प्र.अतिथि विद्वान् संघ , मध्य प्रदेश आपूर्ति अधिकारी  संघ मध्य प्रदेश वित्त सेवा अधिकारी संघ पंचायत समन्वय  अधिकारी संघ, प्रांतीय शासकीय शालेय व्याख्याता एवं प्राचार्य संघ , महिला एवं बाल विकास पर्यवेक्षक संघ, महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी संघ ,समग्र प्राचार्य एवं व्याख्याता शिक्षक संघ हैंडपंप टेक्नीशियन संघ, उन्नतशील अनुकंपा नियुक्ति कर्मचारी संघ , ने आज सामूहिक अवकाश आवेदन में अपना पूरा समर्थन एवं सामूहिक अवकाश भरवाने में पूरा योगदान दिया है उक्त उक्त विज्ञप्ति मोर्चा के प्रांतीय प्रवक्ता सुभाष शर्मा एवं प्रदेश अध्यक्ष जीतेंद्र सिंह ने जारी  कर दी

No comments:

Post a Comment