शिविर लगाकर करें सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का निराकरण - हर्षिका सिंह....समय सीमा एवं विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर के निर्देश - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, July 26, 2021

शिविर लगाकर करें सीएम हेल्पलाईन प्रकरणों का निराकरण - हर्षिका सिंह....समय सीमा एवं विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर के निर्देश



मण्डला 26 जुलाई 2021
 

समय सीमा एवं विभागीय समन्वय समिति की बैठक में कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का सर्वोच्च प्राथमिकता से निराकरण करें। निर्धारित समयावधि में प्रकरणों का निराकरण न होने पर हर स्तर पर जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी। उन्होंने कहा कि विकासखण्ड तथा तहसील स्तर पर शिविर आयोजित कर प्रकरणों का सकारात्मक निराकरण करें तथा कृत कार्यवाही से आवेदकों को अवगत् कराएं। इसी प्रकार विभिन्न स्तरों से प्राप्त होने वाली शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही करें। जिला योजना भवन में संपन्न हुई इस बैठक में सीईओ जिला पंचायत सुनील दुबे, अपर कलेक्टर मीना मसराम सहित सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित रहे।

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी को प्रत्येक गांव टोला तक पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला तथा विकासखण्ड स्तर के अधिकारी लगातार क्षेत्र में भ्रमण करते हुए जल संबंधी शिकायतों का सर्वोच्च प्राथमिकता में निराकरण करें। कलेक्टर ने निर्देशित किया कि मंडला से कान्हा मार्ग मरम्मत तत्काल कराई जाए। इसी प्रकार अन्य मार्गों का भी समुचित रखरखाव सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि मंडला-जबलपुर मार्ग का निर्माण 15 अगस्त तक पूर्ण कराएं। कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान रखें। कलेक्टर ने जिला खनिज अधिकारी को निर्देशित किया कि अवैध उत्खनन पर सख्ती से रोक लगाएं, अन्यथा की स्थिति में विभागीय अधिकारियों की जिम्मेदारी निर्धारित की जाएगी। उन्होंने इस संबंध में पंचायत स्तर पर भी टीम गठित करने के भी निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने मत्स्य अधिकारी को निर्देशित किया कि 28 जुलाई दिन बुधवार को जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में तालाबों में मछली बीज छोड़े जाएं। उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया कि हितग्राहियों को जननी सुरक्षा सहित अन्य योजनाओं का लाभ समय सीमा में प्रदान करें। सभी चिकित्सक समय पर अस्पताल पहुंचे इस संबंध में आवश्यक मॉनिटरिंग करें। कलेक्टर ने सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि पोस्टमार्टम के लिए चिकित्सकों की नामजद ड्यूटी लगाएं तथा इसकी जानकारी मीडिया के माध्यम से जनसामान्य तक पहुंचाएं। खाद बीज की समीक्षा करते हुए उन्होंने संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देशित किया कि पात्र हितग्राहियों को खाद्यान्न का शतप्रतिशत वितरण सुनिश्चित करें। जो हितग्राही खाद्यान्न नहीं ले रहे हैं उनकी जानकारी एकत्र कर कारणों का पता लगाएं। उन्हांेने उचित मूल्य दुकानों की आकस्मिक जांच करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि कोविड कल्याण योजना के तहत् कोरोना योद्धा, बाल कल्याण तथा अनुकंपा नियुक्ति आदि की कार्यवाही समय सीमा में पूर्ण करें। कोई भी पात्र व्यक्ति लाभ से वंचित नहीं रहना चाहिए। बारिश को ध्यान में रखते हुए सभी विभाग कठिन क्षेत्रों का चिन्हांकन कर आवश्यक कार्यवाही करें। कलेक्टर ने जिला रोजगार अधिकारी को रोजगार मेला आयोजित करने के निर्देश दिए। उन्होंने मनेरी सहित जिले में संचालित अन्य औद्योगिक इकाईयों में स्थानीय लोगों को रोजगार दिलाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार जिला शिक्षा अधिकारी तथा जिला परियोजना समन्वयक को निर्देशित किया कि नामांकन का शालावार विश्लेषण कर सुनिश्चित करें कि कोई भी बच्चा प्रवेश से वंचित नहीं रहना चाहिए। उन्होंने जनप्रतिनिधियों के सहयोग से घर-घर संपर्क अभियान संचालित करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि न्यायालयीन प्रकरणों में समय सीमा में जवाबदार प्रस्तुत करें।

कलेक्टर हर्षिका सिंह ने कहा कि कोई भी अधिकारी बिना अनुमति अपना मुख्यालय नहीं छोड़ें। उन्होंने बैठक में बिना पूर्व सूचना अनुपस्थित रहने वाले अधिकारियों का अवैतनिक करने के निर्देश दिए। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुनील दुबे ने क्षतिग्रस्त कुओं की जानकारी तत्काल जिला पंचायत में भेजने के निर्देश दिए। बैठक में संकल्प से सिद्धि, वृक्षारोपण, अंकुर योजना, जल जीवन मिशन सहित अन्य योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की गई।

बैगा बसाहटों के लिए बनाएं विशेष योजना



कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि बैगा बसाहटों में मूलभूत सुविधाओं की उपलब्धता के लिए सभी विभाग विस्तृत कार्ययोजना तैयार करें। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्तियों का चिन्हांकन कर आवश्यक कार्यवाही करें जिन्हें शासन की विभिन्न योजनाओं से नियमानुसार लाभान्वित किया जा सकता है। उन्होंने निर्देशित किया कि बैगा बसाहटों में स्वास्थ्य शिविर आयोजित करें तथा 14 वर्ष से अधिक आयु की बालिकाओं के हीमोग्लोबिन की जांच कराएं। उन्होंने ऐसे क्षेत्रों में सभी प्रकार के टीकाकरण के लिए शिविर लगाने के निर्देश दिए। शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया गया कि ऐसे क्षेत्रों में कोई भी बच्चा अप्रवेशी अथवा शाला त्यागी नहीं रहना चाहिए। कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को बैगा बसाहटों के लिए विभागवार योजना तैयार करने के निर्देश दिए।



स्कूलों में करें कोविड प्रोटोकॉल का पालन



कलेक्टर श्रीमती सिंह ने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया कि स्कूलों में कोविड से सुरक्षा के संबंध में शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का अक्षरशः पालन कराएं। स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखें। समय-समय पर स्कूलों में सेनेटाईजेशन कराएं। प्रत्येक शिक्षक तथा बच्चे अनिवार्य रूप से मॉस्क लगाएं। इस संबंध में उन्होंने लगातार मॉनिटरिंग करने के भी निर्देश दिए।



वैक्सीनेशन नहीं तो वेतन नहीं



शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुए कलेक्टर हर्षिका सिंह ने निर्देशित किया कि अगले 2 दिवस में शिक्षकों का शतप्रतिशत वैक्सीनेशन कराया जाए। इस संबंध में सभी प्राचार्यों से प्रमाण पत्र प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन नहीं कराने वाले शिक्षकों का वेतन जारी न किया जाए। कलेक्टर ने शिक्षकों के शतप्रतिशत वैक्सीनेशन होने तक सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग तथा जिला शिक्षा अधिकारी का भी वेतन रोकने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंह ने कॉलेज के सभी प्रोफेसर सहित समस्त स्टॉफ तथा छात्र-छात्राओं का भी वैक्सीनेशन कराने के निर्देश दिए।



शतप्रतिशत वैक्सीनेशन के लिए प्रत्येक घर तक पहुंच करें



कलेक्टर हर्षिका सिंह ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी तथा जिला टीकाकरण अधिकारी को निर्देशित किया कि शतप्रतिशत वैक्सीनेशन के लक्ष्य की पूर्ति के लिए प्रत्येक घर तक पहुंच सुनिश्चित करें। उन्हांेने कहा कि मतदाता सूची से मिलान करें तथा वैक्सीनेशन से छूटे व्यक्तियों को चिन्हित कर मोबाईल टीम के माध्यम से उनका वैक्सीनेशन कराएं। कोई भी पात्र व्यक्ति वैक्सीनेशन से वंचित नहीं रहना चाहिए, आवश्यकतानुसार घर-घर संपर्क कर टीकाकरण कराएं। उन्होंने वन ग्रामों के लिए वेक्सीनेशन के लिए योजना तैयार करने के निर्देश दिए।


No comments:

Post a Comment