बालासाहब देवरस की पुण्यतिथि व महावीर इंटरनेशनल स्थापना दिवस समारोह संपन्न... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, July 10, 2021

बालासाहब देवरस की पुण्यतिथि व महावीर इंटरनेशनल स्थापना दिवस समारोह संपन्न...

 


रेवांचल टाईम्स - रक्तदान शिविर, आंखो की जांच के साथ हुआ वृक्षारोपण कार्यक्रम.

  महावीर इंटरनेशनल के द्वारा हिंदुस्तान में अपने महापुरुषों का स्मरण कर उनके जयंती एवं पुण्यतिथि पर श्रद्धा सुमन अर्पित करना एक श्रेष्ठ परम्परा रही है। कार्यक्रम का आयोजन कर लगातार उनके कर्तृत्व और आदर्श जीवन का सजीव चित्रण किया जाता है। यदा - कदा पर्वों के माध्यम से भी महावीर इंटरनेशनल लांजी के चेयरमैन विशाल राउत खोंगल उनका स्मरण करना अपना पुनीत कर्तव्य समझता है। महापुरुषों का उत्सवाचरण इनके लिए शिक्षाप्रद और प्रेरणादायक रहा है, जो आने वाली पीढ़ी के लिए यादगार होगा। महापुरुषों , वैज्ञानिकों , ऋषि मुनियों , साधु संतों , समाज सुधारकों व क्रान्तिकारियों को साहित्य के रूप में स्मृति में रखने का प्रयास किया है।

इसी परिप्रेक्ष्य में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय सरसंघचालक प.पू. श्री बालासाहब देवरस की जयंती मनाई गई। इस दौरान महावीर इंटरनेशनल लांजी के तत्वाधान में रक्तदान शिविर, वृक्षारोपण कार्यक्रम ,एवं मोतियाबिंद जांच का आयोजन किया गया। कार्यक्रम आयोजित कर प्रातः 11 बजे से‌ रक्तदान कार्यक्रम,मोतिताबिन्द जांच, पौधा रोपण कार्य किया गया. इसके उपरांत विभा अवस्थी डिप्टी डायरेक्टर विजन -9 मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़,महाराष्ट्र, आशा दुबे अधिवक्ता, सुरेश चुटे संरक्षण, विजय मस्करे सरपंच, भरत कालबेले प्रदेश सचिव कामगार कांग्रेस बालाभाऊ सेवान्यास के आचार्य गण की उपस्थिति में बालाभाऊ देवरस के कुल देवता का स्मरण पश्चात बालाभाऊ देवरस का पुण्य स्मरण कर  दोपहर - 1 बजे से 2 बजे  पुण्य स्मरण दिवस एवं स्थापना दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।


इस अवसर पर किया गया वृक्षारोपण


इसी क्रम में युवा संगठन कारंजा, बापड़ी, कुल्पा, महावीर इंटरनेशनल एवं  युवा संगठन के नेतृत्व में ग्राम कारंजा में 100 से ज्यादा की संख्या में वृक्षारोपण कर पर्यावरण को बचाने का संकल्प किया।  


रक्तदान शिविर में मोतियाबिंद की भी की गई जांच


रक्तदान शिविर के दौरान महावीर इंटरनेशनल के द्वारा ग्रामीणों का मोतियाबिंद भी जांचा गया। इस दौरान डाक्टरों के द्वारा ग्रामीणों के आंखो की जांच की गई जिसमे 40  लोग मोतियाबिंद चिन्हित पाए गए है।



कार्यक्रम को सफल बनाने इनका रहा सहयोग


उक्त रक्तदान शिविर को सफल बनाने में महावीर इंटरनेशनल के चेयरमैन विशाल राऊत खोंगल, एवं पूरी टीम सदस्य फणीन्द दुरुगकर, प्रवीण उमरे,  ,कोमल काड़े,  भरत कालबेले,संजय टेम्भरे, यशवंत लिल्हारे, नरेंद्र फुल्हारे, रामकुमार खारगाल, भूपेश कार्रहे, उमाकांत उपराडे,डॉ दुर्गेश तिड़के, विजय कुथे, प्रदीप मोनू अग्रवाल, जगन्नाथ दादू नाकतोड़े ,भानु डोनाडकर, रविंद्र पारधी, डॉ संतोष रातोंने ,डॉ दिनेश बेदरे, डॉ शैलेंद्र रतोने, अरशद खान, बंटी चंद्रदीप रामटेके, इंद्रकुमार भूते, पप्पू कावड़े, डॉ तोमेश बापुरे,अंचल कालबेले,मुकेश कोल्हे, रोहन अस्तने , सिद्दीक अंसारी, पवन उमरे,तपेश कालबेले, नंदकिशोर बिलावर,रूपेश बिहोने, लोकेश फुंडे,राधेश्याम नखाते, लोकेश (लकी) फूडे ,दिलीप बनोठे, आकाश डिब्बे ,नीरज पगाडे, गिरीश पगाडे, आदर्श ठाकरे, मोहित राणा, नितिन हरिनखेड़े, विवेक बागडे, महेश लिहारे, पुरषोत्तम, थानेश, शुभंम रीनायत, लोकेश शिवनकर, हनी बेनजामिन, मुकेश कोलहे, रवि नारनौरे, हमेंन्द्र बूढावने   राहुल आवरे,   मनोज रामटेके, दिनेश बूढावने    आदि ग्रामीणों का योगदान रहा.



बालासाहब देवरस के जीवन से हमें सिख लेनी चाहिए


राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तृतीय सरसंघचालक प.पू. श्री बालासाहब देवरस की जयंती के अवसर पर आए अतिथि श्रीमती विभा अवस्थी न बाला साहेब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बालासाहब ने ऐसे समय रा.स्व.संघ जैसे राष्ट्रवादी संगठन का दायित्व संभाला जब देश में अनेक प्रकार की विषमताएँ विद्यमान थीं। 1975 में देश में लोकतांत्रिक व्यवस्था को कुचलते हुऐ आपात्काल लगा दिया गया। इन अत्यन्त संघर्षपूर्ण परिस्थितियों में बालासाहब के दृढ़ निश्चयी नेतृत्व , गहन चिंतन और कुशल मार्गदर्शन द्वारा न केवल संघ अपितु पूरे समाज व देश को महत्वपूर्ण योगदान प्रदान किया।आपने आगे कहा कि पूत के पाँव पालने में दिख जाते हैं , और इसे चारितार्थ कर पहले ही दिन से संघ संस्थापक को प्रभावित करने वाला यह बालक आगे चलकर विश्वव्यापी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का सरसंघचालक बना । वैसे तो उसका पूरा नाम मधुकर दत्तात्रेय देवरस था लेकिन सब उसे बालासाहब कह कर पुकारते थे । इसलिए सरसंघचालक बनने के बाद भी वे इसी नाम से जाने जाते रहे। बालासाहब देवरस की अनूठी सोच- पुराने कार्यकर्ता को मार्गदर्शन तथा नये कार्यकर्ता का उत्साहवर्धन करना था, जिससे कि हमें सिख लेनी चाहिए।

विभा अवस्थी, डिप्टी डायरेक्टर, महावीर इंटरनेशनल


दूसरों की मदद करने के महान अवसर किस्मत वालो को मिलते हैं


दूसरों की मदद करने के महान अवसर शायद ही कभी आते हैं, लेकिन छोटे लोग हमें हर दिन घेर लेते हैं। नवोदित कदमों ने धीरे-धीरे गति और शक्ति ग्रहण की, शाखाओं ने अपना दायरा फैलाना शुरू कर दिया, क्योंकि इसने अथक, निस्वार्थ भाव से काम किया और मानव जाति के कष्टों को कम करने की अपनी प्रतिबद्धता में समर्पित थी।

आशा दुबे, अधिवक्ता


आओ और मानवता की सेवा में हमारे साथ जुड़ें


इस दौरान महावीर इंटरनेशनल लांजी के चेयरमैन  विशाल राउत खोंगल ने कहा कि हम "सभी की सेवा करो" के आदर्श वाक्य और "जियो और जीने दो" के सिद्धांत के साथ संगठन ने सत्य, अहिंसा, साथी दर्शन और शिक्षाओं को बढ़ावा देने का कार्य अपने हाथ में लिया। हर जगह भावना और भाईचारा बढ़ाना मेरा उद्देश्य है। हम सब मिलकर कई चेहरों पर मुस्कान ला सकते हैं। वहीं विशाल की बात की जाए तो उन्होंने अपने निजी जीवन में विभिन्न मील के पत्थर बनाए हैं और संगठनात्मक लक्ष्यों और उद्देश्यों के लिए भी सक्रिय रूप से समर्पित रहे हैं। आपने आगे कहा कि महावीर इंटरनेशनल एक गैर-धार्मिक समाज सेवा संगठन है। हमारे पास राष्ट्रीय स्तर पर 9 प्रमुख परियोजनाएं हैं।

जिनमें पर्यावरण: हरा और स्वच्छ भारत, नेत्र देखभाल पर विशेष जोर देने के साथ स्वास्थ्य और चिकित्सा सेवाएं, बाल देखभाल और शिशु किट वितरण, महिला अधिकारिता, रक्तदान और अंगदान, बाल शिक्षा और कौशल विकास, शैशवावस्था में गर्भावस्था, वात्सल्य - स्तनपान बूथ, रोको थैलेसीमिया उपरोक्त के अलावा अन्य 45 अन्य परियोजनाएं स्थान और समय की आवश्यकता के अनुसार कार्य कर रही हैं। वहीं बाला साहब के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि बालासाहब एक व्रहद वृक्ष है जिसके स्वर्गवासी होने के बाद भी हमारे जीवन में उनके विचार औषधि का कार्य कर रहे हैं। ऐसे व्यक्तित्व के धनी को मेरा सादर प्रणाम है, मैं श्रृद्धांजलि अर्पित करता हूं।


विशाल राउत खोंगल चैयरमेन



महावीर इंटरनेशनल निस्वार्थ सेवा के लिए प्रतिबद्ध

महावीर इंटरनेशनल की जड़ें भारतीय संस्कृति और इसकी आध्यात्मिक विरासत में निहित हैं जो इसे एक अलग समाज सेवा संगठन बनाती है। धर्म, जाति और पंथ, सामाजिक स्थिति, क्षेत्र और भाषा के बावजूद, इसके दरवाजे सभी व्यक्तियों के लिए खुले हैं, क्योंकि यह संकटग्रस्त व्यक्तियों और समाज के कमजोर और विशेषाधिकार प्राप्त वर्ग के लोगों की निस्वार्थ सेवा प्रदान करता है। अपनी स्थापना के समय से ही यह संगठन इस दिशा में लगातार काम कर रहा है, और अपने वांछित उद्देश्यों को प्राप्त करने के लिए निरंतर नवाचार कर रहा है। भरत कालबेले समाजसेवक


रेवांचल टाइम्स बालाघाट से खेमराज सिंह राजपूत

No comments:

Post a Comment