पहली बार मलयालम और पंजाबी सहित 13 भाषाओं में होगी NEET Exam - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Wednesday, July 14, 2021

पहली बार मलयालम और पंजाबी सहित 13 भाषाओं में होगी NEET Exam



नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान (Union Education Minister Dharmendra Pradhan) ने घोषणा की कि पहली बार मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट-यूजी 13 भाषाओं (first time, NEET exam will be held in 13 languages) में आयोजित की जाएगी। इसमें पंजाबी और मलयालम ((Malayalam and Punjabi.) ) नए जोड़े गये हैं। इसके साथ ही मध्य पूर्व में भारतीय छात्रों की सुविधा के लिए कुवैत में राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट) के लिए पहली बार नया परीक्षा केंद्र खोला गया है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रधान ने मंगलवार को ट्वीट किया, “एनईईटी (यूजी) 2021 के लिए पंजीकरण आज (13 जुलाई) शाम 5 बजे से http://ntaneet.nic.in पर शुरू हो गया है। मध्य पूर्व में भारतीय छात्र समुदाय की सुविधा के लिए नीट (यूजी) परीक्षा के इतिहास में पहली बार कुवैत में एक परीक्षा केंद्र खोला गया है।”





प्रधान ने कहा, “एनईईटी (यूजी) 2021 पहली बार नई जोड़ी गई पंजाबी और मलयालम सहित 13 भाषाओं में आयोजित की जाएगी।” उन्होंने कहा, “अब यह परीक्षा हिंदी, पंजाबी, असमिया, बंगाली, उड़िया, गुजराती, मराठी, तेलुगु, मलयालम, कन्नड़, तमिल, उर्दू और अंग्रेजी में होगी।”

शिक्षा मंत्री प्रधान ने सोमवार को घोषणा की थी कि देश भर के मेडिकल संस्थानों में दाखिले के लिए 12 सितम्बर को नीट- 2021 आयोजित की जाएगी। उल्लेखनीय है कि पहले यह परीक्षा एक अगस्त को होने वाली थी। स्नातक चिकित्सा और दंत चिकित्सा पाठ्यक्रमों में प्रवेश की पात्रता के लिए नीट को पास करना आवश्यक है। हर साल कम से कम 14 लाख छात्र मेडिकल प्रवेश परीक्षा के लिए उपस्थित होते हैं।

कोरोना के मद्देनजर 155 के बजाय परीक्षा अब 198 शहरों में आयोजित होगी। इतना ही नहीं परीक्षा केंद्रों की संख्या भी पिछले साल के 3862 केंद्रों से बढ़ाई जाएगी। पिछले साल नीट 13 सितंबर को आयोजित हुई थी। इसमें कुल 13.66 लाख उम्मीदवार शामिल हुए थे और उनमें से 7,71,500 ने क्वालिफाई किया था।

No comments:

Post a Comment