अंजनिया मैं बीएसएनएल नेटवर्क गुल बी एस एन एल के अधिकारी सो रहा कुंभकरण की नींद ... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, June 17, 2021

अंजनिया मैं बीएसएनएल नेटवर्क गुल बी एस एन एल के अधिकारी सो रहा कुंभकरण की नींद ...

 



रेवांचल टाइम्स - अंजनिया  बीएसएनएल  के अधिकारियों को कोई चिंता नहीं एक तरफ कोरोना कॉल  मे लोग बैसे  ही परेशान  है दूसरी तरफ बीएसएनएल की लापरवाही के चलते पोस्ट आफिस बिभाग  का कार्य मैं नुकसान हो रहा है साथ मे ग्राहक चक्कर  काट काट  कर परेशान  हो रहे है l बीएसएनएल की इंटरनेट  सेवा द्वारा पोस्ट ऑफिस  का कार्य संचालन  होता है आये दिन अंजनिया  बम्हनी बिछिया  सिझोरा  मे लाइन बंद होने के कारण  लोगो को पोस्ट ऑफिस  के चक्कर  काटना पड़  रहा है l जिससे लोगो का काम समय मे ना होने से लोगो मे आक्रोश व्याप्त है l रोज बिभागिया कंप्लेंड होने पर भी  दूरसंचार  बिभाग  चैन  की नींद  सोये हुए है l लगभग  6 मई  से 20 तारिक तक केबल  कट  होना बताकर  सेवा  पूर्णतः ठप  रही l वही एक हफ्ते भी ना चालू होकर  पुनः  28(मई )तारिक से बंद हो गई जो सेवा आज दिनांक 17.06.2021 तक  बहाल  नहीं की गई l क्या ये अधिकारी  कर्मचारी  सिर्फ तन्खाव  लेने ओर चैन की नींद सोकर  सरकार को लाखो का चुना लगा रहे है l क्या इन अधिकारियो  को जनता की कोई चिंता नहीं... एक तरफ सरकार  सोसल  डिस्टेंस मास्क ओर एक जगह  पर भीड़ ना लगाए  ऐसे प्रयास कर रही है दूसरी तरफ  बिभाग  की लापरवाही के चलते  भीड़ लगना सोसल  डिस्टेंस का पालन ना होना आम  बात हो गई है lऐसे अधिकारी  कर्मचारियों पर  कठोर  कार्यवाही होना चाहिए l चुकि यह सेवा अति आवश्यक  सेवा मे आती हैl  बिभाग  इस ओर ध्यान दे l

No comments:

Post a Comment