हर परिस्थिति मे नारी सशक्त है उसकी मर्यादा करे - नर्स साधना बिसेन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Monday, May 31, 2021

हर परिस्थिति मे नारी सशक्त है उसकी मर्यादा करे - नर्स साधना बिसेन

 




रेवांचल टाईम्स :- नगर क़ि पूजा कश्यप स्वयं कोरोना पॉजिटिव होकर भी कोरोना पॉजीटिव अपने पति और कोरोना पाजिटिव छोटे छोटे बच्चो के स्वस्थ क रखा पूरा पूरा ख्याल और किया इस कोरोना बिमारी से मुक्त -आशा कार्यकर्ता नूरुन निशा खान)

सिवनी-कोरोना संक्रमण के इस विकराल समय मे देश क़ि बेटी, बहू, माँ के रूप मे नारी ऩे हर परिस्थिति मे अपने सशक्त आत्म विश्वास से अपने घरो मे पीड़ित कोरोना संक्रमण से सदस्यो और हास्पिटल, पुलिस, सफाईकर्मी, मीडिया, जनप्रतिनिधि,शासकीय सेवाओ मे अपना जौ परिचय दिया ये दर्शाता है क़ि नारी अबला नही है वो समय के साथ पुरुषो के साथ कंधो से कंधा मिलाकर परिवार, समाज और देश क़ि सेवा क नेतृत्व कर रही है उक्ताशय विचार जिला हास्पिटल सिवनी क़ि फील्ड कोविड संक्रमण जाच दल (एम. एम. यू .टीम) क़ि प्रमुख और स्टाफ नर्स साधना बिसेन ऩे व्यक्त किया

           साधना बिसेन ऩे कहा क़ि सिवनी के जागरूक युवा सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप के कोरोना संक्रमण के चलते उनके गिरते स्वास्थ के चलते सिवनी विधायक दिनेश राय मुनमुन और सिटी कोतवाली थाना निरीक्षक एम. डी नागोतीया और नगर के प्रबुद्ध नागरिको द्बारा जो कश्यप को हर प्रकार क़ि मदद पहुचाई गई ये मानवीय धर्म क परिचय है

            उन्होने कहा क़ि जब उनके घर मे सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप क़ि देख रेख करने वाले ना होने पर उन्हे हास्पिटल पर एडमिट क़ि बात कही तब उनकी पत्नी पूजा कश्यप ऩे कहा क़ि प्रशासन ऩे कहा क़ि होम आइसोलेसन मे रहकर भी इनका इलाज हो सकता है तो इनको घर मे हि रहने दीजिए इस प्रकार उन्होने घर मे ही अपने पति क इलाज और देख भाल किया और इसी के चलते वो स्वयं कोरोना पॉजिटिव हो गई और घर के छोटे बच्चे जिसमे एक छोटा बेटा जौ अभी अपनी माँ क दूघ पीते अवस्था क तो 6 और 8 वर्षीय दो बेटियों को इस संक्रमण से ग्रसित होने पर पूजा कश्यप ऩे हमारे एवं आशा कार्यकर्ता भगत सिह वार्ड के समय समय पर मार्गदर्शन लेकर इस बीमारी के बचाव जो शासन और सरकार के दिशा निर्देश क पालन करते हुए घर मे ही रहकर उन्होने अपने पति, स्वयं और छोटे छोटे बच्चो को कोरोना बिमारी से मुक्त कर सभी को स्वस्थ किया वर्तमान मे सभी कोविड संक्रमण से मुक्त है उनको वर्तमान मे कमजोरी है जिनको समय समय पर दबाइए एवं अन्य जानकरी दी जा रही है

     साधना बिसेन ऩे कहा क़ि धर क़ि नारी चाहे गाव-नगर क़ि हो वो चाहे तो अपने परिवार और समाज को इस बिमारी से शहर और जिले से मुक्त करने मे अहम योगदान दे सकती है इसके लिऐ उन्होने कहा क़ि वो बच्चो के अस्वस्थ होने पर समीप चिकित्सक या हास्पिटल मे जांच कर उचित उपचार कराए और घर के 18 वर्ष से अधिक उम्र के सदस्यो को वैक्सीन लगाने को प्रेरित करे मे योगदान दे जिससे हम अपने देश क़ि सेवा मे अहम योगदान देकर भागीदार बन सकते है

       साधना बिसेन ऩे बताया क़ि सामजिक कार्यकर्ता लक्ष्मी कश्यप और उनके परिवार को स्वस्थ करने मे एम. एम. यू टीम जिला हास्पिटल क़ि मे स्वयं, मंजू यादव लैब टेक्नीशियन, नुरून निशा खान आशा कार्यकर्ता भगतसिह वार्ड, विजय पटले शिक्षक, यशवंत सोनी, सतीश दुबे,संजय शर्मा, शंकर माखिजा क विशेष योगदान रहा है

No comments:

Post a Comment