इस शहर में मिले 40 हजार बच्‍चे मिले Corona संक्रमित, डॉक्टर्स की बढ़ी चिंता - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, May 22, 2021

इस शहर में मिले 40 हजार बच्‍चे मिले Corona संक्रमित, डॉक्टर्स की बढ़ी चिंता



भारत में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) का कहर जारी है। हालांकि कोरोना वायरस (Corona) के नए मामलों में गिरावट आई है मगर मौतों का आंकड़ा घट नहीं रहा है। देश का ऐसा कोई राज्य नहीं है जहां कोरोना वायरस का प्रकोप न हो। कोरोना की दूसरी लहर में संक्रमण ने सबसे अधिक बच्चों को शिकार बनाया है। बड़ी संख्या में बच्चे कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) मिले हैं।




बच्चों में तेजी से बढ़े मामले
एक रिपोर्ट के अनुसार, बच्‍चों में तेजी से हुए कोरोना के संक्रमण का अनुमान इस बात से लगाया जा सकता है क‍ि केवल कर्नाटक (Karnataka) में बीते 2 महीने में 9 साल से कम उम्र के 40 हजार बच्चे कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

सामने आए चौकाने वाले आंकड़े
आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों से कर्नाटक सरकार काफी चिंतित है। कोरोना के आंकड़ों की बात करें तो कर्नाटक में 9 साल तक की उम्र के 39,846 बच्चों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। जबकि 10 से 19 साल तक की उम्र के 1 लाख 5 हजार 44 बच्चे कोरोना संक्रमित मिले हैं।

मार्च तक इतने बच्चे मिले थे संक्रमित
कोरोना संक्रमण के ये आंकड़े 18 मार्च, 2021 से 18 मई, 2021 तक के हैं। रिपोर्ट की मानें तो पिछले साल जब कोरोना वैश्विक महामारी की शुरुआत हुई, तब से 18 मार्च, 2020 तक 0-9 साल के 17,841 बच्चे और 10-19 साल के 65,551 बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए।

No comments:

Post a Comment