Corona से बचाव के लिए पहनें डबल मास्क, विशेषज्ञों ने दी सलाह - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Saturday, April 17, 2021

Corona से बचाव के लिए पहनें डबल मास्क, विशेषज्ञों ने दी सलाह



देश में कोरोना की दूसरी लहर किसी भी तरह काबू में नहीं आ रही है और लोगों के संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। ऐसे में स्वास्थ्य विशेषज्ञ एक ऐसी सलाह दे रहे हैं, जिससे कोरोना से ज्यादा बेतहर तरीके से सुरक्षित रहा जा सकता है। विशेषज्ञों के मुताबिक आज के दौर में लोगों को एक के बजाय दो मास्क पहनना चाहिए। ऐसा करने से कोरोना से सुरक्षा 95 फीसदी तक बढ़ जाती है।

कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन ज्यादा घातक है और ये काफी तेजी से फैल रहा है। ऐसे में हमें ज्यादा सुरक्षात्मक रवैया अपनाने की जरुरत है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर हम दो मास्क पहनें तो ये ज्यादा कारगर साबित हो सकते हैं। पहले एक डिस्पोजेबल मास्क पहनें और इसके ऊपर एक कपड़े का मास्क लगा लें। इससे 95% तक सुरक्षा बढ़ेगी।

विशेषज्ञों के मुताबिक वायरस का नया वैरिएंट अधिक संक्रामक है, इसलिए दो मास्क लगाना जरूरी है. दिल्ली के डॉक्टरों का कहना है कि डबल मास्क सुरक्षा को लगभग 80% तक बढ़ाते हैं। दरअसल कपड़े का मास्क पर्याप्त सुरक्षा (लगभग 50%) नहीं देता है, इसलिए इसके ऊपर सर्जिकल मास्क पहनना ठीक है। लेकिन इसके साथ दो और चीजें सुनिश्चित करनी होगी। पहला, इसकी लेयरिंग को बढ़ाएं और दूसरा दोनों एक साथ मिलकर चेहरे पर फिट हों. इससे सुरक्षा लगभग 80% और अधिक बढ़ जाती है। अगर आप एक साथ दो सर्जिकल मास्क पहनते हैं, तो ये पूर्ण रुप से सुरक्षा प्रदान नहीं करता, क्योंकि नाक और गाल के आसपास गैप रह जाते हैं। लेकिन दो अलग-अलग मास्क पहनने से सारे गैप कम हो जाते हैं। वैसे डॉक्टरों की अभी भी यही सलाह है कि जहां तक संभव हो, एन 95 मास्क का उपयोग करें।

No comments:

Post a Comment