कोरोना के संकट को हराने हम सबको एकजुट होना होगा - सुश्री मीना सिंह मांडवे - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Wednesday, April 14, 2021

कोरोना के संकट को हराने हम सबको एकजुट होना होगा - सुश्री मीना सिंह मांडवे

 


प्रभारी मंत्री ने ली जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक

 मण्डला 14 अप्रैल 2021कोरोना एक वैश्विक महामारी है देश के साथ-साथ प्रदेश में भी इस महामारी का व्यापक रूप देखने को मिल रहा है। मंडला जिले में भी कोरोना संक्रमण विगत् दिनों से बढ़ रहा है। इस महामारी को रोकने के लिए सरकार एवं प्रशासन लगातार काम कर रही है। हम सभी को मिलकर कोरोना को हराना होगा। कोरोना संकट से व्यक्ति, परिवार एवं समाज को बचाने के लिए सभी को एकसाथ एकजुट होना होगा। उक्त बात जनजातीय कार्य एवं अनुसूचित जाति कल्याण तथा जिले के कोरोना नियंत्रण प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह मांडवे ने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में कही। बैठक में उन्होंने कहा कि सभी जनप्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्र में सक्रिय रूप से कार्य करते हुए कोरोना से जागरूकता के लिए प्रभावी कार्य करें। उन्होंने सभी से कहा कि स्वयं सुरक्षित रहते हुए दूसरों को भी बचाएं। यह जीवन अमूल्य है इसे बचाने के लिए सभी का अहम सहयोग आवश्यक है।




प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह मांडवे ने कहा कि कोरोना को हराने में सभी सरकार को सक्रिय सहयोग दें। सरकार के दिशा-निर्देशों का स्वयं भी पालन करें एवं दूसरों से भी पालन कराएं। कोरोना को हराने में सभी आगे आएं। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने स्वास्थ्य विभाग में उपलब्ध मानव संसाधन, वैक्सीन की उपलब्धता, टेस्टिंग किट, जरूरी मशीनें, दवाईयाँ तथा अन्य संसाधनों की आंकड़ेवार समीक्षा की। उन्होंने स्पष्ट कहा कि जिले में सभी दवाईयाँ पर्याप्त मात्रा में सुनिश्चित हो। प्रभारी मंत्री ने वैक्सीन की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने डिमांड भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने एम्बूलेंस की स्थिति की जानकारी लेते हुए इसकी उपलब्धता सुनिश्चित करने की बात कही। सुश्री सिंह ने सीएमएचओ डॉ. सिंह से कहा कि कोरोना संकट की इस लड़ाई में चिकित्सकीय एवं पैरामेडीकल स्टॉफ की भर्ती करें।

बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र तथा छत्तीसगढ़ से आने वाले प्रवासियों का स्वास्थ्य चैकअप कराएं तथा चैकपोस्ट बनाकर प्रवासियों की जानकारी संधारित करें। उन्होंने पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत को निर्देशित किया कि चैकपोस्ट में पुलिस की तैनाती करें। बाजार में भीड़ को नियंत्रित करने के लिए अनाउंसमेंट एवं अन्य जरूरी समझाईशें दें। पुलिस का व्यवहार जनता के प्रति संवेदनशील हो। पुलिस शासन के दिशा-निर्देशों का समझाईश के साथ पालन कराएं। सुश्री सिंह ने कहा कि जिले में प्रवासियों के लिए रोजगार की व्यवस्था भी सुनिश्चित करें। उन्होंने सीईओ जिला पंचायत आशीष पाठक को भी ग्रामीण विकास के अंतर्गत मनरेगा सहित अन्य विकास कार्यों को प्रारंभ करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जल संवधर्न के क्षेत्र में विशेष कार्य कराएं ताकि जल संकट को कम से कम किया जा सके। उन्होंने नहरों की मरम्मत् एवं अन्य कार्यों पर जरूरी निर्देश भी दिए। बैठक में प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्राईवेट अस्पतालों से भी कोरोना संकट में सहायता के लिए बात की जाए। ग्रामीण स्तर पर सामान्य या वायरल बुखार से संबंधित जरूरी दवाईयां भी उपलब्ध कराएं। विधायक मंडला देवसिंह सैयाम ने बैठक में ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड वैक्सीनेशन के संबंध में अपने सुझाव दिए। इसी प्रकार निवास विधायक डॉ. अशोक मर्सकोले ने संक्रमित मरीजों के लिए विशेष गाईडलाईन बनाकर उसका कड़ाई से पालन कराने का सुझाव दिए। उन्होंने सीटी स्केन एवं अन्य जरूरी दवाईयों पर भी अपने विचार रखे। विधायक बिछिया नारायण पट्टा ने घुघरी एवं बिछिया क्षेत्र में एम्बूलेंस की उपलब्धता तथा ग्रामीणों के कोविड टीकाकरण पर जरूरी सुझाव दिए। कलेक्टर हर्षिका सिंह ने बैठक में जिला प्रशासन द्वारा कोरोना नियंत्रण के लिए बनाई गई व्यवस्था के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने ब्लॉक स्तर पर शुरू किए जा रहे कोविड केयर सेंटर, टीकाकरण केन्द्र, एम्बूलेंस, वैक्सीनेशन, जरूरी स्टॉफ तथा अन्य विषयों को विस्तार से रखा। बैठक में जनप्रतिनिधियों एवं धर्मगुरूओं ने भी जिले की समस्याओं एवं सुझाव के संबंध में अपनी बात रखी।

No comments:

Post a Comment