अनोखी शादी : एक ही मंडप में दूल्हे ने लिए दो दुल्हनों के साथ सात फेरे, जानें क्या है माजरा - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, April 29, 2021

अनोखी शादी : एक ही मंडप में दूल्हे ने लिए दो दुल्हनों के साथ सात फेरे, जानें क्या है माजरा



राजस्थान के बांसवाड़ा जिले के आनंदपुरी के कडदा गांव में एक अनोखी शादी हुई। इस गांव के एक दूल्हे ने एक ही मंडप में दो दुल्हनों के साथ सात फेरे लेकर शादी के बंधन में बंध गए। खास बात यह थी कि इसमें तीनों के परिवार वाले ख़ुशी ख़ुशी शामिल हुए। इस शादी के कार्ड भी छपवाए गए थे और इस पर दोनों ही दुल्हनों के नाम भी छपवाए गए थे।




जानकारी के मुताबिक, आनंदपुरी स्थित कडदा गांव में एक दूल्हा दिनेश ने दो दुल्हन सीता- गीता के साथ शादी के बंधन में बंधा। इस शादी को लेकर पूरे परिवार में ख़ुशी का माहौल था। खास बात यह भी रही दूल्हे के सेहरे और दोनों दुल्हनों के सिर पर ओढ़ाई चुनरी पर लाइटिंग की गई थी। यह अनूठी शादी दिनेश पुत्र कमजी पटेल ने की है। एक साथ दो लड़कियों से शादी करने का यह पहला मामला है। जानकारी के अनुसार आदिवासी अंचल के इस ग्रामीण क्षेत्र में एक से आधी पत्नी रखने की परंपरा चली आ रही है। यहां इसे लोग गलत नहीं मानते, यही कारण है कि पूरा गांव इस शादी में ख़ुशी ख़ुशी शामिल हुआ।

बरजडिया की रहने वाली सीता और आंबा की रहने वाली गीता से शादी करने वाले दिनेश ने एक युवती को पहले नातरा के तहत रखा और अब शादी की। आपको बता दें कि इस प्रथा के तहत एक व्यक्ति बिना शादी किए एक युवती के साथ रहता है। लेकिन यह कानूनी रूप से स्वीकृति नहीं है, मगर समाज में कुछ दण्ड देने के बाद यह स्वीकृत हो जाता है। वहीं दूसरी महिला से दिनेश ने सगाई करने के बाद विवाह रचाया है।

दूल्हा दिनेश पटेल पेशे से एक संपन्न निर्माण कारीगर है। इसके साथ ही वह गुजरात में ठेकेदारी का काम भी करता है। मिली जानकारी के अनुसार शुरुआत में विरोध हुआ, तो शादी नहीं हो सकी। लॉकडाउन के चलते दिनेश का ठेकेदारी संबंधित कार्य बंद हैं। जिसके बाद उसने वर्षों बाद अघोषित रिश्ते को सामाजिक स्तर पर मान्यता देने के लिए विधि-विधान से शादी की है। जिसकी वजह से अब तीनों परिवारों ने सहमति बनाकर इस शादी को अनुमति दी है। सोशल मीडिया पर इस शादी का वीडियो जमकर वायरल हो रहे हैं। मिली जानकारी के अनुसार कि राजस्थान का संभवत: यह ऐसा पहला मामला है।

इस शादी के लिए बाकायदा कार्ड छपवाया गया। इसमें युवक के परिवार ने युवतियों के पिता और गांव के नाम भी छपवाए। कोविड गाइडलाइन के तहत शादी में कम लोग शामिल हुए। शादी से पहले पूरे गांव में इसे लेकर अफरा तफरी फैली रही। आनन-फानन में इस शादी की तैयारी की गई। लॉकडाउन लागू होने से एक दिन पहले शादी की रस्म पूरी कर ली गईं।

No comments:

Post a Comment