मध्यप्रदेश: ऑक्सीजन ना मिलने से 5 कोरोना संक्रमित की मौत , शिवराज के मंत्री बोले- "एक उम्र होने के बाद मरना ही पड़ता है" - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

 आवश्कता है  आवश्कता है ....

रेवांचल टाईम्स समाचार पत्र एव वेव पोर्टल में मध्यप्रदेश के सभी संभाग, जिला, तहसील, विकास खंडों, में संवाददाताओं की एंव विज्ञापनों व खबरों से सबंधित व्यक्ति संपर्क करें इन नम्बरों में 👉 9406771592/ 9425117297/ 8770297430/9165745947

Thursday, April 15, 2021

मध्यप्रदेश: ऑक्सीजन ना मिलने से 5 कोरोना संक्रमित की मौत , शिवराज के मंत्री बोले- "एक उम्र होने के बाद मरना ही पड़ता है"



मध्यप्रदेश में भी कोरोना के बढ़ते संक्रमण की वजह से स्वास्थ्य व्यवस्था लचर स्थिति में पहुंच गई है। आलम ये हो चला है कि अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी से मौतों का सिलसिला रुकने का नहीं ले रहा है। लगातार अस्पताल की चरमराई व्यवस्था सामने आ रही है। जबलपुर में लिक्विड प्लांट में आई खराबी के कारण ऑक्सीजन सप्लाई बंद होने से गुरुवार सुबह 5 मरीजों की मौत हो गई। सभी वेंटिलेटर पर थे। वहीं 4 की हालत गंभीर है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां के मेडिसिटी अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने से वेंटिलेटर पर 82 वर्षीय महिला की तड़प-तड़प कर मौत हो गई। वहीं, 4 की मौत सुख-सागर मेडिकल कॉलेज में हुई है। इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के एक मंत्री ने कोरोना मरीजों की बढ़ती मौत के आंकड़ों को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है।

मध्य प्रदेश के पशुपालन सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण मंत्री प्रेम सिंह पटेल ने कहा है, "कोरोना से मरने वालों को कोई नहीं रोक सकता है। मैं अकेला नहीं कह रहा हूं। सभी कह रहे हैं। उम्र हो जाती है तो उसको मरना ही पड़ता है।"दरअसल, मंत्री कोरोना महामारी से हो रहे मौतों के सवाल पर जवाब दे रहे थे। मध्य प्रदेश में बीते 24 घंटे में 10,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए हैं जबकि 51 लोगों की मौत हो गई है।

देश में पिछले 24 घंटे में कोविड 19 के 2,00,739 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,40,74,564 हुई। 1,038 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1,73,123 हो गई है। वहीं देश में सक्रिय मामलों की कुल संख्या 14,71,877 है और डिस्चार्ज हुए मामलों की कुल संख्या 1,24,29,564 है।

भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद के मुताबिक, देश में कल तक कोरोना वायरस के लिए कुल 26,20,03,415 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं, जिनमें से 13,84,549 सैंपल कल टेस्ट किए गए। वहीं देश में कुल 11,44,93,238 लोगों को कोरोना वायरस की वैक्सीन लगाई गई है।

No comments:

Post a Comment