भ्रष्ट सरपंच, रोजगार सहायक, मेम्बरों और मेटों ने मचाई शासन की राशि मे जमकर लूटपाट जिम्मेदार बने मूक दर्शक... - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Saturday, March 20, 2021

भ्रष्ट सरपंच, रोजगार सहायक, मेम्बरों और मेटों ने मचाई शासन की राशि मे जमकर लूटपाट जिम्मेदार बने मूक दर्शक...


रेवांचल टाइम्स- आदिवासी बाहुल्य डिण्डौरी जिला के अंतर्गत आने वाली जनपद पंचायत मेंहदवानी के प्रायः सभी ग्राम पंचायतों में हुए निर्माण और निर्माणाधीन कार्य एक वर्ष पहले से जोरों पर रही है, परन्तु वही कार्य अब धीरे-धीरे पूर्णतः की ओर है। जो कि कहीं पर कार्य अधूरा है पर जाब कार्डों में फर्जी सौ-सौ दिनों की हाजिरी डलवाकर फायदा ले लिया गया है। भले ही कार्य नाम मात्र का हुआ हो। इसी तरह विकास खण्ड-मेंहदवानी के समीपस्थ ग्राम पंचायत सारसडोली का मामला देखने में आया है। यहां वर्षों पहले से निर्माण  कार्य चल रहा है और कार्यों में भ्रष्टाचार की चरम सीमा पार कर चुका है। इस ग्राम पंचायत में सरपंच, रोजगार सहायक, मेम्बर एवं मेट सब अपने-अपने दांव-पेंच लगाकर शासन की राशि को जमकर लूटने का काम किये हैं। वहीं सरपंच द्वारा किराना सामान खरीद करने पर सामान की राशि जाब कार्ड के माध्यम से उस दुकानदार को सौ दिनों की हाजिरी देकर शासन द्वारा राशि पेड करवाई गई है। इसी तरह रोजगार सहायक ने एक-एक व्यक्तियों के नाम से दो-दो जाब कार्ड बनाकर सौ-सौ दिनों का हाजिरी डलवाकर स्वयं फायदा लिया है। यहां तक कि कपड़े दुकान से उधारी कपड़े लेकर उनको सौ-सौ दिनों की हाजिरी देकर शासन द्वारा राशि पेड करवाया गया है। देखा जाए तो कई मेम्बरों ने बग़ैर कार्य में उपस्थित हुए सौ-सौ दिनों की हाजिरी लिये। यहां तक कि अपने नाम से भी दो-दो जाब कार्ड बनवाकर शासन की राशि हड़पने में कोई कसर नहीं छोड़े हैं। विशेषकर वार्ड मेंबर भोला साहू तो अपने दोनों लड़कों के नाम से अलग-अलग जाब कार्ड बनवाकर जबकी उनकी शादी भी नहीं हुई थी। एवं अपने नाम से भी दो जाब कार्ड बनवाकर एवं ऐसे दो-चार दस जाब कार्ड गांव के लोगों के सौ-सौ दिनों की फर्जी हाजिरी डलवाकर स्वयं शासन को लूटने का काम किया है। मेटों का भी शासन को लूटने में भरपूर भरचस्व दिखाते हुए शासन को क्षति पहुंचाने में भरपूर आनन्द से कार्य किये हैं। इनकी कार्य इस तरह रहा है कि ग्राम में ऐसे परिवार जो कभी कार्य करने नहीं गए परन्तु मेटों ने उनके नाम से मस्टररोल जारी कराकर सौ-सौ दिनों की हाजिरी दिलाकर हितग्राहियों से आधा राशि मेटों ने ली। इस तरह शासन की राशि पर डाका डालकर भ्रष्टाचार का खेल जमकर यह सिलसिला अभी भी जारी है। अधिकारी एवं कर्मचारियों के द्वारा सब जानकर भी अंजान बनते नजर आ रहे हैं। विगत तीन माह से ग्राम पंचायतों की कई मुद्दों पर जनपद सीईओ मेंहदवानी को लगातार आवेदनों द्वारा किये गए भ्रष्टाचार की शिकायत कर अवगत कराया जा रहा है परन्तु अधिकारी की बोलती बंद हो गई है। न तो जांच करने को तैयार और न ही कार्यवाही न होने की दशा में भ्रष्टाचारियों के हौसला बुलंद है।

रेवांचल टाइम्स मेंहदवानी से शिवरतन कछवाहा की रिपोर्ट।

No comments:

Post a Comment