किसान आंदोलन के राष्ट्रीय आह्वान के समर्थन में धरना स्थल के सामने की रोड जाम करेंगे - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Thursday, February 4, 2021

किसान आंदोलन के राष्ट्रीय आह्वान के समर्थन में धरना स्थल के सामने की रोड जाम करेंगे


रेवांचल टाईम्स :-  केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कोरोना जैसी महामारी के संकटकाल में असंवैधानिक असंसदीय तरीके से लाये गए किसान विरोधी काले कानून को वापसी की माँग व न्यूनतम समर्थन मूल्य गेरेण्टी कानून लागू करने सिवनी के मक्का उत्पादक किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य की भरपाई को लेकर 53 दिन से बाबा साहब प्रतिमा के समक्ष अनिश्चित कालीन धरने में बैठे आंदोलनकारी  आन्दोलन के राष्ट्रीय आह्वान पर केंद्र की सरकार द्वारा आंदोलनकारियों  

को आन्दोलनस्थल पहुँचने से रोकने के लिए सड़कों पर कुटीले प्रतिवन्धित तार कील सीमेंट की पिल्लर बनाकर बारह बारह लेयर  लगा कर सड़कों को फोड़ तोड़ कर रोकने का प्रयास कर रही है। जिसकी आंदोलनकारियों सहित समस्त जिले के किसान कड़ी निंदा के साथ भर्त्सना की है 


किसानों ने केंद्र की उक्त रवैया व अन्य प्रमुख किसान कर्जमाफी जैसी माँगो के  विरोध में  किसानों के आंदोलन के राष्ट्रीय आह्वान के समर्थन पर सिवनी में 53 दिनों से चल रहे अनिश्चित कालीन धरना  आंदोलन के समक्ष अम्बेडकर चौक की जी  एन रोड को दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक जाम कर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा जिसका निर्णय आज सर्वसम्मति से आंदोलनकारियों ने धरना स्थल में एक बैठक कर रघुवीर सिंह सनोडिया की उपस्थिति में सर्व  सम्मति से लिया जाकर प्रस्ताव टंकित किया गया।जिसमें प्रमुख रूप से राजेन्द्र जयसवाल, रघुवीरसिंह सनोडिया ,अली एम आर खान, डीडी वासनिक, राजेश पटेल,किसान नेता हुकुम सिंह सनोडिया,रंजीत बघेल,ॐ प्रकाश बुर डे किरण प्रकाश,बी सी उके,राखुराम चक्रवर्ती सँगीता चक्रवर्ती जितेंद्र सनोडिया,पी आर इनवाती,निभा कुम्हारे,ईश्वरसिंह राजपूत,संदीप नागेश शिवप्रसाद शिववेदी सहित अन्य उपस्थित रहे।जिसकी जानकारी आंदोलनकारियों की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में मीडिया प्रभारी राजेश पटेल दी है।


      राजेश पटेल ने आगे बताया कि केंद्र की पुर्ण बहुमत होने पर अंहकार से लबालब केंद्र की मोदी सरकार उधोगपति पूंजीपतियों के दबाब में अपने मित्रों को फायदा पहुँचाने आंदोलनकारियों किसानों को नजरअंदाज कर रही है किसानों के आंदोलन को कुचलने तोड़ने के षड्यंत्र शुरू से करते आ रही है लेकिन 26 जनवरी को लालकिले में जो घटना भाजपा नेता सनिदेओल के सहपाठी मोदी अमितशाह के प्रिय दीप सिदधू के द्वारा जो कृत्य लालकिले में धार्मिक झंडा फहराया जाकर उसकी गिरफ्तारी नहीं करना उल्टा किसानों को बदनाम करना बेहद ही निम्न कैटेगरी अकल्पनीय काम है। आज देश का किसान समझ गया जाग गया और बाक़ी रहे किसानों को जगाने का कार्य निरन्तर जारी है। आंदोलनकारियों ने समस्त किसान समर्थकों ,सिवनी के नागरिकगणों ,गाँव के युवाओं, जागरूक किसान भाइयों समाजसेवीओ ,किसान हितैषी राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से चका जाम सफल बनाने की अपील की है।


No comments:

Post a Comment