जनपद पंचायत महेदवानी. की ग्राम पंचायत राघोपुर पौडी माल भ्रष्टाचार चरम सीमा के पार फिर भी जिम्मेदार अधिकारी बने मूकदर्शक - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Tuesday, February 2, 2021

जनपद पंचायत महेदवानी. की ग्राम पंचायत राघोपुर पौडी माल भ्रष्टाचार चरम सीमा के पार फिर भी जिम्मेदार अधिकारी बने मूकदर्शक



रेवांचल टाइम्स :- आदिवासी बाहुल्य जिले में भ्रष्टाचार रुकने का नाम नही ले रहा है आये दिन भ्रष्टाचार की नई नई कहानियां सामने आ रही है वही एक और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जन कल्याणकारी योजनाएं बना कर अंतिम छोर के व्यक्ति को विकास की मुख्यधारा से जुड़ने का प्रयास कर रहे हैं पर जनपद के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से ग्राम पंचायतों में इन दिनों जमकर भ्रष्टाचार किया जा रहा है ऐसा ही कुछ मामला जनपद पंचायत महेदवानी के अंतर्गत ग्राम पंचायत राघोपुर पौड़ी माल का मामला प्रकाश में आया है जहां पर जिम्मेदार पद पर बैठे सरपंच सचिव उपयंत्री रोजगार सहायक द्वारा जमकर भ्रष्टाचार किया गया है और शासकीय योजना को बंटाधार कर सरपंच सचिव उपयंत्री रोजगार सहायक अपनी जेब गर्म करने में लगे हुए हैं मध्य प्रदेश सरकार की जनकल्याणकारी योजना को पलीता लगा कर जवाबदार सरपंच सचिव जमकर भ्रष्टाचार कर रहे हैं जनपद के जवाबदार अधिकारी सरपंच सचिव को खुला संरक्षण दे रखे हैं ऐसा लगता है जिसके चलते सरपंच सचिव उपयंत्री के द्वारा जमकर भ्रष्टाचार मचाया जा रहा है जनपद पंचायत महेदवानी के ग्राम पंचायत राघोपुर में. निर्मल नीर कूप निर्माण स्टॉप डैम सर्वजनिक रंगमंच प्रधानमंत्री आवास कपिलधारा निर्माण कार्य श्रमिक सेट जैसे अन्य निर्माण कार्य की राशि को सरपंच सचिव और उपयंत्री द्वारा बंदरबांट किया गया है और ग्रामीण द्वारा बताया गया कि नोडल अधिकारी द्वारा भी ग्राम सभा में कई बिंदुओं को छोड़कर सिर्फ क्रमांक 9 बिंदु का ही वाचन किया गया और नोडल अधिकारी द्वारा भी लापरवाही बरतते हुए कई जानकारियां छुपाई गई और और ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि ग्राम पंचायत में कई लाखों रुपए की राशि का सरपंच सचिव और उपयंत्री द्वारा राशि का फर्जी आहरण किया गया है और इसी भ्रष्टाचारी के चलते हमारे जिले के ग्रामीणों को रोजगार नहीं मिल पाता और रोजगार से वंचित रहते हैं जिसके कारण हमारे जिले के लोगों को बाहर जिले में जाकर मजदूरी करना पड़ता है क्योंकि हमारे जिले में ग्राम पंचायत में मजदूरी करते हैं है तो या तो भुगतान नहीं मिल पाता या तो सरपंच सचिव द्वारा गरीब ग्रामीणों का पैसा डकार लिया जाता है अगर इस ग्राम पंचायत की सही तरीके से जांच की जाए तो परत दर परत कई भ्रष्टाचार के मामले खुलकर सामने आ सकते हैं पर यहां सभी लोग जानते हैं कि जांच तो सिर्फ नाम की होती है आखिर क्या करें गांधी जी के आगे तो सभी नतमस्तक हो जाते हैं शौचालय भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गए ग्रामीण खुले में सोच के लिए जा रहे हैं और जवाबदार अधिकारी ग्राम पंचायत को खुले में शौच मुक्त बनाकर ढिंढोरा पीटने का काम कर रहे हैं सरपंच लगातार ग्राम पंचायत में तानाशाही रवैया अपनाए हुए हैं जिसके कारण ग्रामीण जनों में जमकर आक्रोश व्याप्त है साथ ही जवाबदार सचिव सरपंच के साथ कदमताल कर रहा है जनपद के सीईओ का खुला संरक्षण मिल रहा है जिसके चलते जवाबदार सचिव सरपंच बेकाबू हो गए हैं और मनमानी करते हुए शासन की योजना को बंटाधार करने में लगे हुए हैं इसके पहले भी रेवांचल टाइम्स समाचार पत्र ने जरानेझर और कनेरी की खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था जिसकी जांच अभी तक चल रही है और कुछ दिनों में यहां जांच सिर्फ खानापूर्ति तक ही रह जाएगी जिसके कारण सरपंच सचिव और उपयंत्री के हौसले लगातार बुलंद होते नजर आ रहे हैं इसी के चलते जनपद पंचायत महेदवानी के ग्राम पंचायतों में लगातार भ्रष्टाचार मचा हुआ है आखिरकार क्या किया जाए गांधी जी के आगे सभी नतमस्तक हो जाते हैं





रेवांचल टाइम्स से प्रमोद पड़वार की खास रिपोर्ट सच के साथ

No comments:

Post a Comment