अष्टलक्ष्मी महायज्ञ के तृतीय दिवस में माता विद्या लक्ष्मी का पूजन किया गया - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, February 21, 2021

अष्टलक्ष्मी महायज्ञ के तृतीय दिवस में माता विद्या लक्ष्मी का पूजन किया गया





रेवांचल टाइम्स  - अंजनिया के निकट ग्राम नरैनी माल में चल रहे श्री अष्टलक्ष्मी यज्ञ एवं श्रीमद्भागवत कथा के तृतीय दिवस माता विद्या लक्ष्मी का पूजन किया गया । माता विद्या लक्ष्मी सम्पूर्ण मनोरथों को पूरा करने वाली है ; माता का सफेद अक्षत से अर्चन किया गया  सफेद रंग के वस्त्र अर्पित किए गए । पं नीलू महाराज ने बताया कि यज्ञ एक श्रेष्ठ कर्म है । यज्ञ में जो औसधियों से युक्त आहुति हवन कुंड डाली जाती है उससे उत्पन्न होने वाली वायु वातावरण को शुद्ध करती । एवं सकारात्मक वातावरण का निर्माण करती है । अपराह्न काल मे श्रीमद्भागवत कथा का वाचन भागवत रसिक पं नीलू महाराज के द्वारा किया जा रहा है । कथा में महाराज  ने बताया कि भगवान की कथा पतितों को पावन करने वाली है । भगवान को प्राप्त करने के लिए जीवन मे सरलता अत्यंत आवश्यक है जिन्होंने अपने जीवन में सरल लाई उन्हें भगवान सहज ही प्राप्त हो गए । जिनके हृदय में सरलता रूपी आसान होता है भगवान उनके हृदय में अविचल भाव से विराजमान हो जाते हैं ।

कथा श्रवण से जीवन मे भक्ति का संचार होता है ।


कथा साथ ही अनेक सांस्कृतिक सामाजिक कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है ।कल सपाक्स पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष हीरालाल त्रिवेदी का आगमन हुआ । प्रातः काल पतंजलि योग समिति द्वारा योग सिखाया जा रहा है । रात्रि काल मे मण्डला की सुन्दरकाण्ड मंडली द्वारा संगीतमय पाठ किया गया | कथा में बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग पहुंच रहे है ।

No comments:

Post a Comment