नैनपुर में सट्टे का कारोबार जोरों पर,जिम्मेदार मौन.....देखिए वीडियो - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, February 17, 2021

नैनपुर में सट्टे का कारोबार जोरों पर,जिम्मेदार मौन.....देखिए वीडियो




रेवांचल टाईम्स :- नैनपुर नगर में सट्टे के कारोबार का संचालन जोरो पर है। सूत्रों की माने तो स्थानीय नेता एवं स्थानीय लोगों की मदद से जुएं एवं सट्टे का कारोबार चल रहा है। नैनपुर में लंबे समय से इस कारोबार का संचालन हो रहा है लेकिन यहां तक वर्दी धारियों की पहुंच नहीं हो पा रही है और यही कारण है कि स्थानीय लोगों की मदद से सट्टा का कारोबार तेजी से फल फूल रहा है।


सट्टा जैसे संगीन अपराध को स्थानीय लोगों द्वारा भरे समाज में खिलवाया जा रहा है। इससे युवा वर्ग के लोगों पर ज्यादा असर दिखाई पड़ रहा है। जहां युवा वर्ग के लोग सट्टा एवं जुआ जैसे संगीन अपराध में संलिप्त हो रहे हैं, लेकिन इस अपराध को रोकने में नाकाम पुलिस नाकाम साबित हो रही है।


पूरे नगर को सट्टे ने अपनी चपेट में ले लिया है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि लोग अब खुलेआम सट्टा खेल रहे हैं और उनमें पुलिस का भी कोई डर नहीं नजर आता। वहीं पुलिस भी इस पूरे मामले पर अपनी आंखें मूंदे हुए हैं। नगर की तंग गलियों में काफी लोग सट्टे के धंधे में लगे हुए हैं। वहीं हालात देखकर लगता है कि इस पूरे मामले में कहीं ना कहीं पुलिस की भी मिलीभगत है। क्योंकि जिस तरह लोग खुलेआम सट्टा लगा रहे हैं, खबर तो यह भी है नगर में जब सुदीप सोनी जैसे टी.आई.थे तो सट्टा खिलाने वालों की पतलून गीली हो गई थी और उन्हें मजबूर होकर अपना अवैध कार्य बंद करना पड़ा था लेकिन इस नगर में  अच्छे थाना निरीक्षक ज्यादा दिन नहीं ठहरते हैं क्योंकि उन सट्टा खाईवाल की मोटी रकम ऐसे अधिकारियों के ट्रांसफर के लिए भी खर्च की जाती है जिस वजह से ज्यादा दिन ऐसे अधिकारी नैनपुर नगर में नहीं टिक पाते एक बार यह कारोबार बंद होने के बाद भी यह कारोबार दोबारा चालू हुआ है। और अब नगर में सरेआम चल रहा है।


नगर के हर गली मोहल्ले और बाजार में खुलेआम सट्टे का कारोबार चल निकला है। कभी कभार पुलिस दो-चार छोटे एजेंटों को पकड; कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर लेती है। जबकि हकीकत यह है कि सटोरियों के कारनामों को जानने के बाद भी पुलिस के स्थानीय और आला अधिकारी चुप्पी साधे बैठे हैं, यही वजह है कि यह कारोबार  बुधवारी बाजार मार्केट में सबसे अधिक संख्या में एवं नगर के  ग्राम निवारी चौक, सिवनी फाटक, थांवर चौक, उमरिया में भी लगभग 4-5 जगह व आसपास के क्षेत्र में फल फूल रहा है।

No comments:

Post a Comment