कोरोना संक्रमण के पुनः अलर्ट के मद्देनजर मॉस्क का उपयोग अनिवार्य जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Wednesday, February 24, 2021

कोरोना संक्रमण के पुनः अलर्ट के मद्देनजर मॉस्क का उपयोग अनिवार्य जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक संपन्न



रेवांचल टाइम्स  - मण्डला 23 फरवरी 2021 महाराष्ट्र राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रदेश में भी स्वास्थ्य सुरक्षा को दृष्टिगत् रखते हुए जिला स्तर पर आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित करने के निर्देश प्राप्त हुए थे। इसी तारतम्य में जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में राज्यसभा सांसद संपतिया उईके, जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा, कलेक्टर हर्षिका सिंह, पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत, जिला पंचायत सीईओ तन्वी हुड्डा, एडीएम मीना मसराम, भीष्म द्विवेदी, सभी एसडीएम, जनप्रतिनिधि तथा संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में राज्यसभा सांसद ने कहा कि विगत् वर्ष कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन द्वारा किए गए बेहतर इंतजामों एवं अनुभवों से सीखते हुए इस वर्ष भी संक्रमण के रोकथाम के लिए पुख्ता तैयारी करना होगा। उन्होंने कहा कि ग्रामीण स्तर पर भी लगातार जागरूकता कार्यक्रम तथा निचले अमले को पुनः सक्रिय करते हुए लोगों के स्वास्थ्य एवं आवागमन पर ध्यान देते हुए उचित इंतजाम सुनिश्चित करना होगा।


मॉस्क का उपयोग अनिवार्य, उल्लंघन पर जुर्माना


कलेक्टर हर्षिका सिंह ने सभी एसडीएम को निर्देशित किया कि अपने-अपने क्षेत्रों में भीड़भाड़ वाले स्थानों, बाजारों तथा अन्य स्थानों पर मॉस्क का उपयोग अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करें। मॉस्क का उपयोग नहीं करने वाले व्यक्तियों पर जुर्माना आरोपित किया जाए। श्रीमती सिंह ने कहा कि सभी एसडीएम अपने क्षेत्र में बाहर से आने वाले विशेषकर महाराष्ट्र से आने वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य की अनिवार्यतः जांच सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि जिले से व्यावसायिक एवं अन्य उद्देश्यों के लिए नागपुर सहित अन्य स्थानों पर जाने वाले व्यक्ति भी अनिवार्यतः स्वास्थ्य जांच एवं सेम्पलिंग कराएंगे। कलेक्टर ने ग्रामीण स्तर पर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम, सचिव एवं जीआरएस को बाहर से आने वाले व्यक्तियों की जानकारी संधारित करने तथा उनके स्वास्थ्य की प्राथमिक जांच अनिवार्यतः कराने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कोरोना के पुनः संक्रमण के अलर्ट की जानकारी मुनादी के माध्यम से भी प्रसारित करने के निर्देश दिए हैं। 


कान्हा में पर्यटकों की स्वास्थ्य जांच कराएं


श्रीमती सिंह ने जिले के सीमावर्ती अनुविभागों के एसडीएम को निर्देशित किया कि कोरोना संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के लिए पूर्व में अपनाई गई रणनीति एवं इंतजामों को सुनिश्चित करें। उन्होंने बिछिया एसडीएम सुलेखा उईके को निर्देशित किया कि कान्हा क्षेत्र में महाराष्ट्र, अन्य राज्यों तथा विदेशों से आने वाले पर्यटकों की जानकारी संधारित करें तथा उनके स्वास्थ्य की जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग से समन्वय कर काम करें। उन्होंने होटल एवं रिसॉर्ट एसोसिएशन से बात कर होटलों में एवं पर्यटकों से कोरोना संक्रमण के लिए जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं। 


कोरोना से बचाव के 5 नियम


 सीएमएचओ डॉ. श्रीनाथ सिंह ने जिला स्तरीय संकट प्रबंधन समिति की बैठक में बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए अब भी 5 गोल्डन रूल का पालन करना होगा। हम सभी को मॉस्क का उपयोग अनिवार्य रूप से करना होगा, हाथों को साबुन या सेनेटाईजर से नियमित अंतराल से साफ करना होगा, सामाजिक दूरी का कड़ाई से पालन करना होगा, अनावश्यक घर से बाहर नहीं निकलने तथा भीड़भाड़ वाले स्थानों से बचना होगा। इसी प्रकार जिलेवासी 2 गज की दूरी का कड़ाई से पालन करते हुए अत्यावश्यक कार्य से ही घर से बाहर निकलें। डॉ. सिंह ने कोरोना वायरस के नए रूप के बारे में चर्चा करते हुए उक्त पांचों गोल्डन रूल के पालन करने की बात कही। बैठक में जिला पंचायत उपाध्यक्ष शैलेष मिश्रा ने कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पुनः मैदानी एवं स्वास्थ्य अमले को सजग करने के लिए विशेष कदम उठाने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक यशपाल सिंह राजपूत ने बैठक में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर पुलिस विभाग द्वारा किए जाने वाले कार्यों की जानकारी दी। जिला पंचायत सीईओ ने ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी एवं बाहर से आने वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य जांच के संबंध में जरूरी निर्देश दिए।

No comments:

Post a Comment