नगर का दूसरा व्यस्ततम मार्ग अतिक्रमण की चपेट में - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Sunday, January 17, 2021

नगर का दूसरा व्यस्ततम मार्ग अतिक्रमण की चपेट में


रेवांचल टाईम्स :- दिन व दिन विभाग की उदासीनता के चलते अतिक्रमणकारियों के हौसले बुलंद है वही बांसुरी वादन चौराहा से लेकर राधा कृष्ण मंदिर चौराहे तक का सफर लोगों के लिए बड़ा ही कष्टप्रद हो गया है। 5 मिनट के रास्ते में लोगों को आधे घंटे से भी अधिक का वक्त लगता है। जाम गंभीर समस्या है। इससे निजात दिलाने के लिए कुछ समय पहले नगर पालिका द्वारा बांसुरी वादन चौक से राधा कृष्ण मंदिर चौक तक सड़क का चौड़ीकरण किया गया। नगर पालिका व प्रशासन द्वारा अतिक्रमण हटाकर सड़क का चौड़ीकरण किया गया। वैसे तो यह चौड़ीकरण का निर्माण कार्य नगर की बढ़ती हुई जनसंख्या को देखते हुए  काफी सालों पहले हो जाना था,काफी पहले ही अतिक्रमण हटा जाना था और सड़क का काम शुरू हो जाना था, लेकिन नगर पालिका की सुस्त चाल लोगों के लिए समस्या का सबब बन चुकी है।


देर सबेर अतिक्रमण हटाकर सड़क चौड़ीकरण करके निर्माण कार्य संपन्न किया गया लेकिन व्यापारियों द्वारा सड़क पर अतिक्रमण कर जगह गिरा जाना प्रारंभ कर दिया गया है जिससे सड़क चौड़ीकरण का महत्व खत्म होता दिखाई दे रहा है।


नैनपुर नगर में सप्ताह में 2 दिन बुधवार एवं रविवार को बाजार लगता है। जिसमें बुधवारी बाजार के दिन नैनपुर नगर के आसपास के क्षेत्र के आदिवासी अंचल की जनता अधिक संख्या में इस बाजार में सम्मिलित होती है।जिसकी वजह से इस रोड पर जाम की स्थिति बन जाती है,और व्यापारियों के द्वारा किए गए अतिक्रमण एवं छोटे ठेलों एवं फुटकर विक्रेता की दुकानों के चलते इस चौड़ीकरण सड़क का महत्व खत्म हो जाता है।


एक लंबा जाम इस रोड में देखने को मिलता है जिसकी वजह से आवागमन करने वाले जनमानस को अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। बांसुरी वादन चौक से लेकर राधा कृष्ण मंदिर तक 5 मिनट का रास्ता आधे घंटे में तब्दील हो जाता है।


ताज्जुब की बात तो यह है कि नगर पालिका द्वारा अतिक्रमण हटाया तो जाता है। लेकिन व्यापारियों की मोटी मलाई प्राप्त करने के बाद अतिक्रमण हटाने का मतलब ही बदल जाता है।और व्यापारियों द्वारा पुनः अपनी दुकान के सामने अतिक्रमण कर लिया जाता है। जिसकी वजह से नवनिर्मित चौड़ी रोड पुनः छोटी हो जाती है,और सप्ताह में लगने वाले बाजार के दिन इस सड़क की हालत और भी ज्यादा गंभीर हो जाती है। जिसमें आवागमन करने के लिए जगह नहीं रहती जिसकी वजह से राहगीरों को अधिक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।


अनेकों बार इस भीड़ और जाम की वजह से दुर्घटनाएं भी हो जाती है जिससे जनमानस दुर्घटनाग्रस्त हो जाते हैं। लेकिन इसकी जिम्मेदारी प्रशासन नहीं लेता बल्कि जिस वाहन द्वारा दुर्घटना होती है। उस पर ही कार्यवाही कर केस बनाया जाता है और चालान काटा जाता है लेकिन जाम की समस्या को सुलझाने का कार्य प्रशासन द्वारा नहीं किया जाता।


 बांसुरी वादन चौक से लेकर बड़ी खेरमाई तक सीसी रोड का निर्माण किया गया है। यह सड़क नगर का दूसरा सबसे व्यस्ततम मार्ग है और इस सड़क की सहायता से आसपास के क्षेत्र के ग्रामीण अंचल को नैनपुर नगर से जोड़ा जाता है,और लगातार इस सड़क पर आवागमन अधिक संख्या में देखने को मिलता है। लेकिन इस तरह अतिक्रमण हो जाने से इस मार्ग में हमेशा जाम की स्थिति बनी रहती है,और राहगीरों को अधिक समय व्यतीत कर इस जाम का सामना करते हुए अपना सफर तय करना पड़ता है।


जिसके लिए नगर प्रशासन की आंखें देखकर भी अंधी बनी हुई है और बड़े व्यापारियों के द्वारा मिल रही मोटी मलाई के चलते जनमानस की परेशानियों को बढ़ावा दिया जा रहा है। इस समस्या का तत्काल समाधान होना चाहिए अन्यथा यह समस्या कभी ना कभी एक बड़े हादसे को अंजाम दे सकती है।

No comments:

Post a Comment