महिला बाल विकास विभाग ने भ्रष्टाचार और कर्मचारियों को प्रताड़ित किए जाने की खिलाफ कर्मचारियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, January 22, 2021

महिला बाल विकास विभाग ने भ्रष्टाचार और कर्मचारियों को प्रताड़ित किए जाने की खिलाफ कर्मचारियों ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

 




रेवांचल टाइम्स - जिला मुख्यालय कलेक्टर कार्यालय में बड़ी संख्या में एकत्रित होकर महिला एवं बाल विकास विभाग के कर्मचारी एवं सुपरवाइजर ज्ञापन देने पहुंचे जहां उनके साथ समनापुर क्षेत्र के कुछ गणमान्य नागरिक और जनप्रतिनिधि पहुंचे कुछ ही दिनों पहले गरमाया महिला बाल विकास विभाग कि भ्रष्टाचार का मामला अब और अधिक तूल पकड़ता नजर आ रहा है समनापुर परियोजना में पदस्थ अधिकारी महिला बाल विकास विभाग के द्वारा कार्यकर्ताओं को विभिन्न योजनाओं की आवंटित राशि वसूलने का दबाव सुपरवाइजर को दिया जा रहा था जिसके व्हाट्सएप मैसेज का वीडियो वायरल होने एवं समाचार प्रकाशित होने के बाद महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों द्वारा मामले को दबाने का प्रयास करते हुए पिछले दिनों मामले का खुलासा करने वाली सुपरवाइजर को प्रताड़ित करने का प्रयास किया गया जिसके चलते सुपरवाइजर स्वप्निल पुरी परेशान होकर अचानक बेहोश हो गई कुछ देर बाद हालत बिगड़ने के कारण जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया उसके बाद समनापुर क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिकाओं व सुपरवाइजर के साथ गणमान्य नागरिक एवं कर्मचारी मैं भी अधिक रोष व्याप्त देखा गया जिसके चलते कार्यकर्ताओं व जनप्रतिनिधियों ने एसडीएम को ज्ञापन सोते हुए मामले की जांच करवा कर कठोर कार्यवाही की मांग की है इसी के साथ परियोजना में पदस्थ अधिकारी खिल्ली बाई नेटी यहां पर 10 वर्षों से पदस्थ होने के कारण अपनी मनमानी लगातार करती जा रही है एवं कार्यकर्ता व सहायिकाओं की भर्ती में रिश्वत लेने सहित कई आरोप लगाते हुए विगत दिनों हुए भ्रष्टाचार के मामले में उनके खिलाफ विभाग के अधिकारियों द्वारा कार्यवाही ना किए जाने व मामले को दबाने के लिए कर्मचारियों को लगातार प्रताड़ित किए जाने के प्रकरण की जांच कर दोषी वह भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्यवाही की मांग की है इसी के साथ 25 जनवरी तक अगर कार्यवाही ना होने की तो लोगों ने चक्का जाम व प्रदर्शन करने की भी चेतावनी दी है


रेवांचल टाइम्स से प्रमोद पड़वार की खास रिपोर्ट सच के साथ

No comments:

Post a Comment