गरीबों को दिया जा रहा सड़ा गला दूषित अनुपयोगी अनाज - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Monday, December 21, 2020

गरीबों को दिया जा रहा सड़ा गला दूषित अनुपयोगी अनाज


रेवांचल टाईम्स - एक तरफ गरीबो के लिए तरह तरह की योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा पर कागज कुछ और कहते है और जमी हक़ीक़त कुछ और ही वया करती है।

        सिवनी से महज 20 km गोपालगंज के समीप आने वाली 

ग्राम पंचायत खांखरा के अंतर्गत  राशन वितरण समिति  के जगदीश पाल आज गरीबों को घटिया अनाज बॉट रहे थे जिसे  पशु आहार में उपयोग किये जाने पर भी पशुओं के बीमार होने की संभावना है।

एक कहावत भारतीय जनता पार्टी के शासन काल मे चरितार्थ होती दिखाई दे रही अंधेर नगरी चौपट राजा टका शेर भाजी टका शेर खाजा ।

रवि पाल यू तो समिति में राशन वितरण का काम करते है परन्तु इनके परिवार का इतना भय व दबदबा ग्रामीण जनों में है कि खराब अनाज लेकर मुँह बन्द रखे रहे  पर कुछ इनके खिलाफ कैमरे के सामने बोलने की हिम्मत नही की। जब शिकायतकर्ता ही नही बोलेगा  तो कार्यवाही क्या होगी लेकिन अधिकारीयों को मामला को 

 संज्ञान में लेना चाहिए ओर जांच करनी चाहिए ग्रामीणों से ऐसे  भाजपा समर्थित गुंडे प्रवत्ति के लोगों की कमी तो नही है पर प्रशासन को निष्पक्ष जाँच कर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए  ताकि गरीब अपने मौलिक अधिकारों से तो वंचित ना हो ।

आम आदमी पार्टी ऐसे लाचार गरीब परिवारों की आबाज है और भ्रष्ट जनप्रतिनिधि हो या अफसर हमेशा इनका विरोध करती है ।

आज जिला मीडिया प्रभारी राजेश पटेल को नाम ओपन ना करने की शर्त पर ग्रामीण ने वितरण किये जाने वाले अनाज की वीडियो पेश की है खबर लगते है आप के जिला मीडिया राजेश पटेल के रवि पाल से दूरभाष पर बात करने के बाद खराब अनाज का वितरण रोका गया और उसे वापस भिजवा देने की बात रवि पाल ने स्वीकार की।

राजेश पटेल ने जारी प्रेस  विज्ञप्ति    में बताया कि आम आदमी पार्टी के सक्रिय होते ही उनके पास ऐसी कइयों खबर पहुँच रही है पर उनके लिए हर मामले में दखल अंदाजी करना सम्भव नही हो पा रहा ।

पिछले दिनों भी छपारा जनपद पंचायत के अंतर्गत पौड़ी ग्राम पंचायत का एक मामला आया था परंतु जनपद मुख्यकार्यपालन अधिकारी छपारा ने तत्काल संज्ञान में लेकर कार्यवाही की।

      और आदिवासी ग्रामीणों की शिकायत का समाधान हुआ।

No comments:

Post a Comment